प्रियंका ने पीएम मोदी पर किया प्रहार झांसी में गत सप्ताह केरल की ननों पर हुए हमले के बारे में एक शब्द भी नहीं बोला 

Newspoint24.com/newsdesk

त्रिशुर।  कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर करारा हमला करते हुए कहा कि पलाक्काड में मंगलवार को चुनावी अभियान के दौरान उन्होंने (श्री मोदी ने ) झांसी में गत सप्ताह केरल की ननों पर हुए हमले के बारे में एक शब्द भी नहीं बोला और इसके बजाय उन्होंने बाइबल का हवाला दिया।

श्रीमती प्रियंका ने त्रिशुर जिले के सभी 13 विधानसभा क्षेत्रों के दौरे के अंत में रोड शो के समापन के बाद यहां तेकिनकाडु मैदान में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए श्री मोदी की तीखी आलोचना की। उन्होंने कहा,“ बाइबल सच्चाई का प्रतीक है और उन्हें ( श्री मोदी को ) पवित्र पुस्तक का सार समझ में नहीं आया। उन्होंने सिर्फ किताब के नाम का उल्लेख करके ईसाईयों के तुष्टीकरण का एक मौका हासिल करना चाहा है।”

उन्होंने कहा कि वह खुद सिस्टरों के कॉन्वेंट में एक स्वयंसेवक थी, जहां वह गरीबों और निराश्रितों की सेवा करती थीं। नन सभी स्थानों पर बहुत पवित्र कर्तव्य निभा रही हैं। प्रधानमंत्री ने ननों की सेवा की गरिमा और पवित्रता को कभी नहीं समझा। उन्होंने (श्री मोदी ने) केरल की बहनों के समूह पर हमले की निंदा करने की कभी जहमत नहीं उठाई।

उन्होंने कहा,“यह बेहतर होता कि प्रधानमंत्री चुनावों के लिए बाइबिल के नाम को उद्धृत करने के बजाय ननों पर हमले की निंदा करते।”

उन्होंने केरल में सत्तारूढ़ वाम लोकतांत्रिक मोर्चा सरकार पर विकास के लिए कुछ नहीं करने के लिए हमला किया। उन्होंने कहा कि इसके बजाय, पिनारायी सरकार सोने की तस्करी में व्यस्त है तथा गहरे समुद्र में मछली पकड़ने के लिए एक विदेशी कंपनी के साथ गुप्त समझौते पर हस्ताक्षर कर चुकी है। उन्होंने आरोप लगाया कि पिनाराई सरकार एक कॉर्पोरेट घोषणापत्र का पालन कर रही है।

केरल में पहली बार चुनाव अभियान में भाग ले रहीं श्रीमती प्रियंका ने कहा कि वह त्रिशुर आकर खुद को भाग्यशाली महसूस कर रही हैं। उन्होंने कहा कि यहां उनके परनाना जवाहरलाल नेहरू, दादी इंदिरा गांधी और पिता राजीव गांधी विभिन्न जनसभाओं को संबोधित कर चुके हैं।

Share this story