पीएम की सुरक्षा में चूक पर प्रेसिडेंट कोविंद ने जताई चिंता 

President Kovind expressed concern over the lapse in PM's security

राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने आज राष्ट्रपति भवन में प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की और

कल पंजाब में उनके काफिले में सुरक्षा उल्लंघन का प्रत्यक्ष विवरण प्राप्त किया। राष्ट्रपति ने गंभीर

चूक के बारे में अपनी चिंता व्यक्त की," भारत के राष्ट्रपति कार्यालय ने ट्वीट किया।

Newspoint24/संवाददाता /एजेंसी इनपुट के साथ

 नयी दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने पंजाब दौरे के दौरान सुरक्षा में हुई चूक के बारे में बृहस्पतिवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को जानकारी दी जिन्होंने इस गंभीर घटना पर चिंता व्यक्त की ।

राष्ट्रपति भवन ने राष्ट्रपति कोविंद के हवाले से ट्वीट में यह जानकारी दी और मुलाकात के चित्र भी साझा किए । ट्वीट के अनुसार, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने राष्ट्रपति भवन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की और एक दिन पहले पंजाब दौरे के दौरान हुई सुरक्षा चूक की घटना के बारे में जानकारी ली । इसमें कहा गया है कि राष्ट्रपति ने (प्रधानमंत्री की) सुरक्षा में चूक को लेकर चिंता व्यक्त की ।

मुलााकात के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट किया, ‘‘ राष्ट्रपति जी से भेंट की । उनकी ओर से चिंता व्यक्त करने के लिये आभार। उनकी शुभकामनाओं के लिये आभारी हूं जो हमेशा शक्ति का स्रोत रहे हैं । ’’

उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पंजाब दौरे पर हुई सुरक्षा में चूक को लेकर बृहस्पतिवार को चिंता जताई और इस सिलसिले में उनसे बात भी की।

उपराष्ट्रपति कार्यालय की ओर से जारी एक ट्वीट के मुताबिक, नायडू ने कहा कि प्रधानमंत्री के सुरक्षा प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन सुनिश्चित करने के लिए कठोर कदम उठाए जाएं, जिससे भविष्य में दोबारा इस प्रकार की चूक ना हो।

गौरतलब है कि पंजाब के दौरे पर गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में बुधवार को उस वक्त चूक की घटना हुई, जब फिरोजपुर में कुछ प्रदर्शनकारियों ने उस सड़क मार्ग को अवरुद्ध कर दिया जहां से उन्हें गुजरना था। इस वजह से प्रधानमंत्री एक फ्लाईओवर पर करीब 20 मिनट तक फंसे रहे। घटना के बाद प्रधानमंत्री किसी कार्यक्रम में शामिल हुए बिना दिल्ली लौट आए।

हालांकि, पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने कहा कि प्रधानमंत्री की सुरक्षा में कोई चूक नहीं हुई और इसके पीछे कोई राजनीतिक मंशा नहीं थी। उन्होंने स्पष्ट शब्दों में कहा कि उनकी सरकार किसी भी जांच को तैयार है।

आधिकारिक प्रवक्ता के अनुसार, पंजाब सरकार ने प्रधानमंत्री मोदी के फिरोजपुर दौरे को लेकर चूक की समग्र जांच के लिये दो सदस्यीय उच्च स्तरीय समिति का बृहस्पतिवार को गठन किया ।

यह भी पढ़ें : 

दिल्ली पुलिस ने ‘‘बुली बाई’’ मामले में ‘मुख्य साजिशकर्ता’ को असम से गिरफ्तार किया

Share this story