'टाइम' पत्रिका के सबसे प्रभावशाली 100 लोगों की सूची में मोदी ,ममता ,के साथ तालिबान नेता बरादर का नाम भी शामिल

 'टाइम' पत्रिका के सबसे प्रभावशाली 100 लोगों की सूची में मोदी ,ममता , के साथ तालिबान नेता बरादर का नाम भी शामिल

newspoint 24 / newsdesk / एजेंसी इनपुट के साथ 

नयी दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनकी कट्टर विरोधी पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को 'टाइम' पत्रिका के सबसे प्रभावशाली 100 लोगों की सूची में शामिल किया गया है। 

इस सूची में सीरम इंस्टीच्यूट ऑफ़ इंडिया के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अदार पूनावाला का नाम भी है। 

'टाइम' पत्रिका ने बुधवार को 'द 100 मोस्ट इन्फ्लुएंशियल पीपल ऑफ़ 2021' की अपनी वार्षिक लिस्ट जारी की।

इसमें अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन, ब्रिटेन की महारानी के पोते प्रिंस हैरी और पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप के नाम भी हैं। 


दिलचस्प बात यह है कि इस सूची में तालिबान के नेता और अफ़ग़ानिस्तान के उप प्रधानमंत्री मुल्ला अब्दुल ग़नी बरादर का नाम भी शामिल है। 


इस सूची में अमेरिका की उपराष्ट्रपति कमला हैरिस, चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के नाम भी हैं।

मोदी के टाइम प्रोफाइल में कहा गया है कि एक स्वतंत्र राष्ट्र के रूप में अपने 74 वर्षों में, भारत के तीन प्रमुख नेता रहे हैं - जवाहरलाल नेहरू, इंदिरा गांधी और मोदी। 


सीएनएन के एंकर जक़रिया ने प्रधानमंत्री पर भारत के मुसलिम अल्पसंख्यकों के 'अधिकारों को ख़त्म करने' और पत्रकारों को क़ैद करने और डराने-धमकाने के आरोप भी लगाए हैं।

ममता बनर्जी


पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के लिए कहा गया है कि वह 'भारतीय राजनीति में उग्रता का चेहरा बन गई हैं।

यह आरोप लगाया गया है कि ममता बनर्जी अपनी पार्टी तृणमूल कांग्रेस का नेतृत्व नहीं करती हैं, वह खुद ही पार्टी हैं।


मुल्ला बरादर 


टाइम के प्रोफ़ाइल में तालिबान के सह-संस्थापक मुल्ला अब्दुल ग़नी बरादर को 'शांत, गुप्त व्यक्ति' बताया गया है, जो 'शायद ही कभी सार्वजनिक बयान या साक्षात्कार देता है।'

टाइम पत्रिका ने बरादर को लेकर आगे कहा है, 'अब वह अफ़ग़ानिस्तान के भविष्य के लिए एक आधार के रूप में खड़े हैं। अंतरिम तालिबान सरकार में, उन्हें उप प्रधानमंत्री बनाया गया है, शीर्ष भूमिका एक अन्य नेता को दी गई है, जो तालिबानी कमांडरों की युवा और अधिक कट्टरपंथी पीढ़ी को ज्यादा स्वीकार्य है।'
 

पूनावाला


अदार पूनावाला के टाइम प्रोफाइल में कहा गया है, "कोरोना महामारी अभी खत्म नहीं हुई है, और पूनावाला अभी भी इसे समाप्त करने में मदद कर सकते हैं। वैक्सीन असमानता ज़रूर है और दुनिया के एक हिस्से में टीकाकरण में देरी के वैश्विक परिणाम हो सकते हैं-जिसमें अधिक ख़तरनाक रूपों के उभरने का जोखिम भी शामिल है।"

'टाइम' पत्रिका की इस सूची में जापान की टेनिस खिलाड़ी नाओमी ओसाका, रूस के विपक्षी नेता एलेक्सी नेवलनी, गायिका ब्रिटनी स्पीयर्स, एशियाई प्रशांत नीति और योजना परिषद के कार्यकारी निदेशक मंजूशा पी. कुलकर्णी, ऐप्पल के सीईओ टिम कुक और अभिनेत्री अभिनेता केट विंसलेट को भी जगह दी गई है। 

Share this story