क्रूज ड्रग्स मामला : आर्यन के खिलाफ कोई ठोस सबूत नहीं 20 दिन बाद बॉम्बे हाईकोर्ट ने शनिवार फैसले की कॉपी जारी की 

Cruise drugs case: No concrete evidence against Aryan, 20 days later, Bombay High Court released copy of verdict on Saturday

कोर्ट ने यह भी कहा कि आर्यन के फोन से जो व्हॉट्सएप चैट सामने आए हैं

उनमें ऐसी कोई भी आपत्तिजनक बात सामने नहीं आई है जिससे यह पता

चले कि उन तीनों ने अन्य आरोपियों के साथ मिलकर कोई अपराध किया है या साजिश रची।

Newspoint24/ एजेंसी इनपुट के साथ 

कोर्ट ने खारिज किए NCB के दावे, कहा-आर्यन और उनके दोस्तों खिलाफ कोई ठोस सबूत नहीं,चैट में कुछ भी आपत्तिजनक नहीं
 

 मुंबई। क्रूज ड्रग्स मामले में बॉम्बे हाई कोर्ट ने 20 दिन बाद बॉम्बे हाईकोर्ट ने शनिवार को वृस्तृत फैसले की कॉपी जारी की। गौरतलब है कि 28 अक्तूबर को  शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान और उनके दोस्त अरबाज मर्चेंट, मुनमुन धुनेचा को जमानत दी थी। 30 अक्टूबर को आर्यन खान जेल से रिहा हुए थे। 

हाई कोर्ट ने अपने फैसले में कहा कि प्रथम दृष्टया आरोपियों के खिलाफ ऐसा कोई सबूत नहीं मिला है जिससे यह साबित हो सके कि उन्होंने ड्रग्स से संबंधित कोई अपराध करने की साजिश रची थी।

कोर्ट ने यह भी कहा कि आर्यन के फोन से जो व्हॉट्सएप चैट सामने आए हैं उनमें ऐसी कोई भी आपत्तिजनक बात सामने नहीं आई है जिससे यह पता चले कि उन तीनों ने अन्य आरोपियों के साथ मिलकर कोई अपराध किया है या साजिश रची।

 आर्यन खान के इकबालिया बयान का प्रयोग केवल मामले की जांच के लिए 

एनडीपीएस अधिनियम की धारा 67 के तहत एनसीबी द्वारा दर्ज आर्यन खान के इकबालिया बयान का प्रयोग केवल मामले की जांच के लिए किया जा सकता है, न कि यह अनुमान लगाने या साबित करने के लिए कि अभियुक्तों ने एनडीपीएस अधिनियम के तहत अपराध किया।

बता दें कि 2 अक्टूबर की रात एनसीबी ने मुंबई से गोवा जा रहे कॉर्डिएल क्रूज शिप में चल रही रेव पार्टी पर छापेमारी के बाद ड्रग्स लेने और खरीद-फरोख्त करने के आरोप में आर्यन खान और उनके दोस्त अरबाज मर्चेंट,मुनमुन धमेचा सहित कई लोगों हिरासत में लिया था। आर्यन और उनके साथियों को 28 अक्टूबर को जमानत मिली थी। जमानत देते समय अदालत ने कहा था कि आर्यन को हर हफ्ते एनसीबी ऑफिस में आना होगा। 

यह भी पढ़ें :

कृषि कानूनों की वापसी से खफा कंगना ने इंदिरा गाँधी को लेकर कही बड़ी बात पढ़ें क्या कहा हीरोइन ने

मेहुल चोकसी ने बांबे हाईकोर्ट से भगोड़ा घोषित न करने के लिए लगाई गुहार

Share this story