छत्तीसगढ़ : बीजापुर के जंगल में नक्सलियों के साथ मुठभेड़ में शहीद जवानों की संख्या बढ़कर 24 हुयी और 31 घायल 

Newspoint24.com/newsdesk

रायपुर। छत्तीसगढ़ के बीजापुर जिले के जंगल में नक्सलियों के साथ मुठभेड़ में शहीद जवानों की संख्या बढ़कर 24 हो गई जबकी जवान 31 घायल बताये  जा रहे हैं। 
कल रात दो घायल जवानों ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। पुलिस ने घटनास्‍थल से दो माआवादियों के शव बरामद किए हैं जिनमें एक महिला है।
 
कल रात तक 30 घायल जवान बीजापुर जिला मुख्‍यालय लाए गए थे। इनमें से सात की हालत गंभीर होने के कारण उन्‍हें हेलिकॉप्‍टर से रायपुर ले जाया गया था । माओवादियों ने कल रात बीजापुर के जगरगुंडा इलाके में तलाशी अभियान के दौरान सुरक्षाबलों के संयुक्‍त दल पर घात लगाकर हमला कर दिया था।
 
मुठभेड़ के बाद से सुरक्षा बलों के 21 जवान अब भी लापता हैं। अतिरिक्‍त बल घटनास्थल पर पहुंचकर लापता जवानों की तलाश में लगे हैं। इस बीच, स्‍थानीय लोगों का कहना है कि उन्‍होंने घटनास्‍थल पर 20 शव देखे हैं, जबकि मृतकों की आधिकारिक संख्‍या की पुष्टि अभी नहीं की गई है।



 
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने छत्तीसगढ़ में माओवादियों के साथ मुठभेड़ में शहीद हुए जवानों के परिवारों के प्रति गहरी संवेदना व्‍यक्‍त की हैं। एक ट्वीट में श्री मोदी ने कहा कि वीर शहीदों के बलिदान को कभी नहीं भुलाया जा सकता। उन्होंने घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की।
 
गृह मंत्री अमित शाह ने भी छत्तीसगढ़ में माओवादियों के साथ मुठभेड़ में शहीद हुए बहादुर सुरक्षाकर्मियों को श्रद्धांजलि दी है। एक संदेश में श्री शाह ने कहा कि राष्ट्र इन सुरक्षाकर्मियों की वीरता को कभी नहीं भुलाएगा। उन्होंने शहीदों के परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की और घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की। गृह मंत्री ने कहा कि देश शांति और खुशहाली के दुश्मनों के खिलाफ अपना संघर्ष जारी रखेगा।

Share this story