विपक्ष का देश विरोधी चेहरा करना होगा बेनकाब: योगी

Yogi Adityanath

Newspoint 24 / newsdesk

लखनऊ।  विपक्ष को आंतकवादियों का शुभचिंतक करार देते हुये उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को विपक्ष का देश विरोधी चेहरा बेनकाब करना होगा।

भाजपा कार्यसमिति की बैठक को संबोधित करते हुये उन्होने कहा कि लव जेहाद के खिलाफ हमने कदम उठाया तो विपक्ष को परेशानी हो रही है। उन्होंने कार्यकर्ताओं को विपक्ष के भ्रम और छल से सतर्क रहने की नसीहत देते हुए बूथ स्तर पर पार्टी को और मजबूत बनाने का आह्वान किया। उन्होने कहा “ हमें बताना होगा कि ये जो कह रहे हैं उसका मतलब क्या है। विपक्ष के फैलाए जा रहे भ्रम को दूर करना होगा। लोगों को विपक्ष की नकरात्मकता से बचाना होगा।”

उन्होने कहा कि कोरोनाकाल में विपक्षी नेताओं के चेहरे कहीं नही दिखाई दिए। ये लोग अपने अपने स्तर पर सिर्फ भ्रम की स्थिति पैदा करके नकरात्मक स्थितियां पैदा कर रहे थे। विपक्ष राष्ट्रीय सुरक्षा के मुद्दे पर कैसे बयानबाजी कर रहा है। इसे लोगों को बताना होगा। मतांतरण के मुद्दे पर मूकबधिर बच्चो को टूल बनाकर,उन्हें अपनी ही व्यवस्था के खिलाफ खड़ा करके भयानक स्थितियां पैदा करने की कुत्सित चेष्टा कर रहे थे।

श्री योगी ने कहा कि लखनऊ के आतंकवाद के मुद्दे पर कैसे बयानबाजी करते हैं। समाजवादी पार्टी की सरकार के समय मे कचहरी ब्लास्ट, बिजनौर सीआरपी एफ कैम्प के हमलावरों के केस वापस करवाने वालों का कल आगरा में पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगवाना इनके चरित्र और चेहरे को उजागर करता है। लव जिहाद कर खिलाफ हमने कदम उठाया तो इनको परेशानी हो रही है। हमको लोगों को बताने की जरूरत है कि ये जो कह रहे हैं वो क्या है,हमें इनके चेहरे बेनकाब करने होंगे।

उन्होने कहा कि चार वर्ष पहले गांव गरीब किसान,नौजवान,महिलाएं सरकार के एजेंडे में नही होते थे। ये सिर्फ वोटबैंक तक सीमित होते थे। लेकिन इनके लिए जो योजनाए बनी उसका परिणाम सामने आ रहा है। आज एक क्लिक पर पैसा गरीब के खाते में जा रहा है। बैंक में भीड़ होती है। हमने किसी की जाति ,मजहब नही देखा। सबको आवास,सबको समान विद्युत आपूर्ति हो रही है। एक लाख 21 हजार गांवो तक विद्युतीकरण किया गया। आजादी के बाद से अब तक इतना कभी नही हुआ था। सड़कों का जाल बिछा, वर्ना उत्तर प्रदेश के बारे में कहा जाता था जहां से गड्ढे शुरू हों वो उत्तर प्रदेश है। जहां अंधेरा शुरू हो वही उत्तर प्रदेश था। लेकिन प्रदेश वही है। सिस्टम वही है। सरकार में चेहरे बदले और कार्य सम्पन्न हुए। उत्तर प्रदेश के बारे में देश मे छवि बनी कानून व्यवस्था का मानक तय हुआ।
 

Share this story