अमित शाह ने राजा की निंदा की, महिला विरोधी द्रमुक को सबक सिखाने को कहा

Newspoint24.com/newsdesk

तिरुकोविलुर। तमिलनाडु के मुख्यमंत्री ई के पलानीस्वामी और उनकी माताजी के खिलाफ द्रविड मुनेत्र कषगम (द्रमुक) सांसद ए राजा की अपमानजनक टिप्पणी पर भावुक होते हुए केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने राज्य की माताओं और बहनों से छह अप्रैल को होने वाले विधानसभा चुनावों में महिला विरोधी द्रमुक को सबक सिखाने को कहा है।

श्री शाह ने गुरुवार को एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा,“ मैंने द्रमुक नेता ए राजा के बयान को देखा है और जिस तरह का बयान एक दिवंगत महिला के खिलाफ दिया गया है ,वह दर्शाता है कि द्रमुक के पास महिलाओं के लिए कोई सम्मान नहीं हैं।”

श्री शाह ने द्रमुक और कांग्रेस की आलोचना करते हुए कहा कि ये पार्टियां भ्रष्ट और वशंवादी हैं और किसी भी तरह चुनावों को जीतना चाहती हैं। उन्होंने कहा,“ राज्य की माताओं और बहनों को इस बार के चुनाव में द्रमुक को सबक सिखाना चाहिए। इससे पहले द्रमुक ने दिवंगत मुख्यमंत्री सुश्री जे जयललिता के खिलाफ भी इसी तरह की बयानबाजी की थी और मैं आप सभी मां बहनों से अपील करता हूँ कि द्रमुक को महिला विरोधी छवि के लिए जोरदार सबक सिखाना चाहिए।”

श्री शाह ने कहा कि काँग्रेस और द्रमुक को राज्य के लोगों की कोई चिंता नहीं है और यह चुनाव विकास की राह पर जा रहे राष्ट्रीय जनताँत्रिक गठबंधन(राजग) और भ्रष्टाचार तथा वंशवाद में लिप्त सँयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) के बीच है।

केन्द्रीय गृह मंत्री ने कहा कि काँग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी अपने पुत्र श्री राहुल गांधी के लिए चिंतित है तो द्रमुक अध्यक्ष एम के स्टालिन अपने पुत्र उदयनिधि के लिए चिंता कर रहे हैं।

उन्होंने अन्नाद्रमुक-भाजपा गठबंधन की जीत के प्रति आश्वस्त होते हुए कहा कि जनता का जो अभूतपूर्व समर्थन राजग के लिए है वह जल्दी ही पूरे राज्य में चुनावी नतीजों के रूप में सामने आएगा।
 

Share this story