यूपी में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 25858 नये मामले 352 की मौत 

25858 new cases of corona 352 died in last 24 hours in UP

Newspont24 / newsdesk 


लखनऊ।  उत्तर प्रदेश में पिछले तीन दिनो से कोरोना के रिकवरी रेट में उत्तरोत्तर सुधार आने वाले दिनों में राहत मिलने की किरण दिखा रहा है।
स्वास्थ्य विभाग से प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार पिछले 24 घंटों में कोरोना के 25858 नये मामले सामने आये है जबकि पहले से उपचार करा रहे 38 हजार 683 स्वस्थ भी हुये।

 इस अवधि में हालांकि 352 मरीजों की मृत्यु चिंता में डालने वाली है। कोरोना से सर्वाधिक संक्रमित लखनऊ,कानपुर,वाराणसी,प्रयागराज और मेरठ में नये मामलों में कमी दर्ज की जा रही है वहीं स्वस्थ होने वालों की संख्या लगातार बढ़ रही है।

इस बीच आईआईटी कानपुर से एक राहत भरी जानकारी मिली है कि कोरोना संक्रमण देश के कई राज्यों में पीक पर है। आईआईटी कानपुर के प्रोफेसर मणींद्र अग्रवाल ने दावा किया है कि राज्य के अधिसंख्य जिलों में संक्रमण का ग्राफ 20 मई के बाद नीचे गिरेगा जहां प्रतिदिन शहरों में संक्रमण के केस डेढ़ से दो हजार के बीच आ रहे हैं, वहां 20 मई के बाद सैकड़ों में सीमित हो जाएंगे।

कंप्यूटर सांइस इंजीनियरिंग विभाग के प्रोफेसर ने गणतीय विश्लेषण के आधार पर दावा किया है। उन्होंने कोरोना प्रभावित हर एक राज्य का अलग-अलग डाटा तैयार किया है। उनका कहना है कि कानपुर में बीते 28 से 30 अप्रैल के बीच कोरोना पीक पर था। यह विश्लेषण पिछले साल के संक्रमण दर की स्थिति और दूसरी लहर के संक्रमण के फैलाव के आधार पर निकाला गया है।

प्रो अग्रवाल ने पिछले साल के संक्रमण फैलाव और प्रतिरोधक क्षमता का विश्लेषण जनसंख्या के आधार पर किया। विश्लेषण में शहरों की जनसंख्या, जांच में मिले संक्रमित मरीजों और कितने दिनों में लोगों तक संक्रमण पहुंच रहा है। इसकी गणना को समावेश किया गया।

पिछले 24 घंटे में लखनऊ में 2407 नये मामलों की अपेक्षा 5079 मरीज स्वस्थ हुये जबकि 22 की मृत्यु हो गयी वहीं कानपुर में 1150 नये कोरोना संक्रमितों की पहचान हुयी जबकि 2697 मरीज स्वस्थ हुये हालांकि एक दिन में यहां सर्वाधिक 66 मौते चिंता में डालने वाली हुयी। वाराणसी मे 1174 नये मामलो की तुलना में 1565 मरीज स्वस्थ हुये जबकि 19 कोरोना की लड़ाई हार गये। प्रयागराज में नये 561 संक्रमितों के मुकाबले 1893 मरीज स्वस्थ हुये और नौ की मृत्यु हुयी।

इसके अलावा मेरठ में 893 नये मरीज मिले वहीं 1301 स्वस्थ भी हुये। नोएडा में 1761 नये मामलों की अपेक्षा स्वस्थ होने वाले 1670 थे। इसी प्रकार गोरखपुर में 928 नये केस की तुलना में 1035 मरीज स्वस्थ हुये। गाजियाबाद में 1057 नये मामलों की तुलना में 1260 और बरेली में 560 नये मरीजों के मुकाबले 1285 मरीज स्वस्थ हुये। हालांकि मध्यप्रदेश की सीमा से सटे झांसी में हालात चिंताजनक रहे जहां कोरोना के 1232 नये मामले सामने आये जबकि स्वस्थ होने वाले 769 थे। यहां 15 मरीजों की मौत भी हुयी।

पिछले 24 घंटे में राज्य में दो लाख आठ हजार 558 कोरोना टेस्ट किये गये जिसे मिलाकर अब तक राज्य में एक करोड़ 36 लाख आठ हजार 183 जांचे की जा चुकी है। पांच मई यानी बुधवार से ग्रामीण क्षेत्रों में भी वृहद टेस्टिंग अभियान चलाया जायेगा। सरकार की अपील है कि कोरोना की चेन को तोड़ने के लिये जन भागीदारी अति आवश्यक है। लोग बहुत जरूरी काम से ही घर से बाहर निकले। कोरोना कर्फ्यू का अक्षरश: पालन करें। बाहर निकलने से पहले मास्क जरूर धारण करें और साेशल डिस्टेसिंग का पालन करें।

Share this story