सोशल मीडिया पर फिर ट्रोलर्स के निशाने पर आये वीर दास

Newspoint24/ संवाददाता /एजेंसी इनपुट के साथ

Newspoint24/ संवाददाता /एजेंसी इनपुट के साथ 

हाल ही में अपने एक मोनोलॉग को लेकर विवादों में आये कॉमेडियन व अभिनेता वीर दास ने अपने न्यूयॉर्क शहर में आजोयित अंतर्राष्ट्रीय एमी पुरस्कार समारोह के 49वें संस्करण से अपने नामांकन पदक की तस्वीरें साझा की हैं,जिसके बाद वह एक बार फिर से ट्रोलर्स के निशाने पर आ गए हैं ।

वीर दास की नेटफ्लिक्स कॉमेडी स्पेशल, वीर दास: भारत के लिए, एमी पुरस्कार के कॉमेडी श्रेणी में नामांकित हुई थी, लेकिन वह फ्रांस के शो, कॉल माई एजेंट से यह पुरस्कार हार गए ।

वीर दास ने अपने नॉमिनेशन मेडल और सलाद की प्लेट की तस्वीर ट्विटर पर शेयर करते हुए लिखा-'मुझे इंटरनेशनल एमी अवॉर्ड्स में बेस्ट कॉमेडी के लिए नॉमिनेट किया गया था। कॉल माई एजेंट, एक खूबसूरत शो जिसे मैं प्यार करता हूं, ने यह पुरस्कार जीता। हालांकि, मुझे यह पदक मिला और मैंने यह शानदार सलाद खाया।

अपने देश का प्रतिनिधित्व करना मेरे लिए सम्मान की बात थी। एमी अवॉर्ड को बहुत-बहुत धन्यवाद।'

वीर दास के इस पोस्ट के बाद सोशल मीडिया यूजर्स उन्हें ट्रोल करने लगे । वीर के इस पोस्ट पर एक यूजर ने प्रतिक्रिया देते हुए लिखा-'किसी ने भारत को बदनाम करने की कोशिश की, अंततः इस तरह के अंतरराष्ट्रीय नामांकन के लिए योग्य हो जाएगा। घर का भेदी।'

हालांकि, यूजर के इस पोस्ट पर अभिनेत्री ऋचा चड्ढा जमकर भड़क गईं और उन्होंने यूजर के इस प्रतिक्रिया पर सवाल करते हुए पूछा अखबार पढ़ते हो!' वहीं एक अन्य यूजर ने लिखा-'मजाक करके अपने देश का प्रतिनिधित्व करना, और बदले में पुरस्कृत होना !! नई पीढ़ी बिना किसी शर्म के इसे जारी रखे हुए है!'

उल्लेखनीय है, वीर दास ने कुछ समय पहले अपने यूट्यूब चैनल पर 'आई कम फ्रॉम टू इंडिया' टाइटल से एक वीडियो अपलोड किया था, जो वाशिंगटन डीसी के 'जॉन एफ कैनेडी सेंटर' में उनके परफार्मेंस का एक हिस्सा था। वीर ने अपने इस वीडियो में अमेरिका के लोगों के सामने भारत के लोगों के दोहरे चरित्र के बारे में जिक्र किया था।

हालांकि बाद में वीर ने इस मामले में विवाद बढ़ता देख अपनी सफाई देते हुए माफ़ी भी मांगी थी।

हिन्दुस्थान समाचार

Share this story