आगरा में पति को बंधक बनाकर पत्नी से सामूहिक दुष्कर्म , दो आरोपी अरेस्ट 
 

Newspoint24.com/newsdesk


आगरा।  आगरा जनपद के  थाना एत्मादपुर इलाके में हैवानियत की हद पार करने वाली घटना सामने आई है। पति को बंधक बनाकर पत्नी से सामूहिक दुष्कर्म करने के मामले में पुलिस ने शुक्रवार को गिरफ्तार हुए आरोपी योगेश से जब पूछताछ की तो इस हैवानियत का पता चला । आरोपी ने पुलिस को बताया कि पति-पत्नी को प्रेमी-प्रेमिका समझ जबरन जंगल में ले जा कर उनको निवस्त्र किया और बलात्कार किया साथ ही उनके आपत्तिजनक फोटो ,वीडियो बनाए, । पीड़ित महिला तीन महीने की गर्भवती है। घटना के दौरान पति पत्नी रहम की भीख मांगते रहे पर हवसीयों ने एक न सुनी। 


आगरा के एसएसपी मुनिराज ने कहा  कि 29 मार्च की शाम को पीड़िता पति के साथ मायके जा रही थी। झरना नाला के पास तीन आरोपियों ने दोनों को रोका , इसके बाद पीड़िता और उसके पति को जंगल में ले जाकर मारपीट की थी। विवाहिता से सामूहिक दुष्कर्म किया था। मोबाइल से वीडियो और फोटो भी बनाए थे। पीड़ित दंपती ने मामले में गौरीशंकर, मोनू और एक अन्य के खिलाफ सामूहिक दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज कराया है। आरोपी गौरीशंकर निवासी इंदिरा ज्योति नगर, शाहदरा को 31 मार्च को गिरफ्तार कर लिया गया। 


 शुक्रवार को आरोपी योगेश कुमार को वाटरवर्क्स चौराहे से गिरफ्तार कर लिया। उसे जेल भेजा दिया गया । उसके पास से 1160 रुपये, मारपीट में प्रयुक्त लकड़ी का डंडा बरामद मिला है। पुलिस की पूछताछ में आरोपी ने बताया कि झरना नाला के पास उसके रिश्तेदार की दुकान है। वह गौरी और मोनू के साथ होली खेलने गया था। रास्ते में रिश्तेदार की दुकान पर खड़ा हो गया। तभी पति-पत्नी आते दिखे। उन्हें देखकर पीछे लग गए। दोनों को रोकने के बाद धमकी दी। इसके बाद जंगल में ले गए। उनसे गालीगलौज की।

पीड़ित महिला के पति का कहना है कि आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा मिले। पुलिस ने आरोपियों को कड़ी सजा दिलाने के लिए केस को गंभीरता से लिया है। उधर, योगेश का नाम बाद में सामने आया है। इसलिए उसकी शिनाख्त कराई जाएगी। यह जेल में मजिस्ट्रेट के सामने होगी। पीड़िता से उसकी पहचान कराई जाएगी। वहीं तीसरे आरोपी की तलाश में पुलिस जुटी हुई है। 

Share this story