चरस तस्कर अय्यूब के मददगारों की तलाश में लगी एसटीएफ

Newspoint24 / newsdesk

Newspoint24 / newsdesk

लखनऊ । उप्र एसटीएफ के हत्थे चढ़े चरस तस्कर अय्यूब शेख सस्ते दाम पर चरस लाकर उप्र के अलग-अलग जिलों में सप्लाई करता था। अब एसटीएफ की टीम उसके मददगारों को पकड़ने के लिए योजना बना रही है।

एसटीएफ की टीम ने गुरुवार की शाम को अय्यूब शेख को शहीद पथ के किनारे कामता तिराहा के पास से 1.700 किलो ग्राम अवैध नेपाल चरस के साथ पकड़ा था। बरामद नेपाली चरस की कीमत अन्तरराष्ट्रीय बाजार में 58 लाख रुपये है।

पूछताछ में अभियुक्त अय्यूब शेख ने पूछताछ पर बताया कि वह इस चरस को नेपाल के जनपद परसा के ग्राम देवरिया से चौधरी थारू नामक व्यक्ति से लेकर आ रहा था, जिसे उत्तर प्रदेश के बड़े शहरों लखनऊ, कानपुर, उन्नाव और आसपास के जिलों में मंहगें दामो पर बेच देता है।

एसटीएफ उपनिरीक्षक अमित कुमार तिवारी ने बताया कि काफी दिनों से ये जानकारी मिल रही थी कि बिहार चम्पारन के रहने वाले तस्करों द्वारा नेपाल से लाकर लखनऊ कानपुर व प्रदेश के अन्य जनपदों में नेपाली चरस का अवैध व्यापार किया जा रहा है। इसको गंभीरता से लेकर एसटीएफ की टीम ने इन तस्करों की धरपकड़ में लगी थी। एसटीएफ ने बताया कि अभियुक्त अय्यूब शेख से पूछताछ कर उसके मददगारों की तलाश में टीमें लगाई गई है।

हिन्दुस्थान समाचार

Share this story