जिंदगी बहुत खूबसूरत है, लेकिन ....  लिख महिला सिपाही ने की खुदकुशी

Newspoint24.com/newsdesk/


नई दिल्ली। द्वारका नार्थ थाने में तैनात एक  महिला सिपाही ने गुरुवार सुबह फांसी लगाकर जान दे दी। महिला सिपाही अपने पति से अलग अकेली रहती थी। उसके पास से एक सुसाइड नोट मिला है जिसमें उसने व्यक्तिगत कारणों की वजह से खुदकुशी करने की बात लिखी है और परिवार वालों को परेशान नहीं करने की बात लिखी है। पुलिस उसके परिवार वालों से पूछताछ कर आगे की जानकारी हासिल कर रही है।


मृत महिला सिपाही की पहचान शारदा (37) के रूप में हुई है। मूलत: राजस्थान झुंझनू जिला स्थित पिलानी तहसील की रहने वाली शारदा शादीशुदा थी। उसके पति बैंक में कार्यरत है। एक बेटी और एक बेटा है। दोनों छात्रावास में रहते हैं। पति से मनमुटाव होने की वजह से वह भरत विहार स्थित अपने घर में अकेली रहती थी और पति अपनी मां के साथ रहता है। वह वर्ष 2006 में दिल्ली पुलिस में भर्ती हुई थी।

गुरुवार सुबह एक महिला सिपाही थाने से उससे ड्यूटी पर आने के बारे में पूछने के लिए लगातार फोन कर रही थी। लेकिन वह फोन नहीं उठा रही थी। एक महिला सिपाही को उसके घर भेजा गया। काफी खटखटाने पर जब दरवाजा नहीं खुला तो महिला सिपाही ने थाने में अपने अधिकारियों को इस बारे में जानकारी दी गयी। उसके बाद पुलिस टीम उसके घर पहुंची और दरवाजा तोड़कर अंदर प्रवेश किया।

कमरे में शारदा पंखे से लटकी हुई थी। पुलिस ने शव को नीचे उतारकर कब्जे में कर लिया और परिवार वालों को घटना की जानकारी दी। छानबीन के दौरान उसके पास से एक सुसाइड नोट मिला। जिसमें उसने अपने परिवार वालों से इस कदम के लिए माफी मांगते हुए लिखा है कि वह अपने व्यक्तिगत कारणों से यह कदम उठा रही है। उसने लिखा है कि जिंदगी बहुत खूबसूरत है, लेकिन मैं लंबे समय से व्यक्तिगत कारणों की वजह से परेशान हूं। इसी परेशानी के कारण मैं अपनी जिंदगी खत्म कर रही हूं। आगे उसने लिखा है कि मेरी मौत के बाद मेरे जानकारों और परिवार वालों को परेशान न किया जाये। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि आखिर किस व्यक्तिगत कारण की वजह से वह इतना परेशान थी कि उसे खुदकुशी करना पड़ा। इस बात की जांच के लिए उसके परिवार वालों से पूछताछ की जा रही है।

Share this story