बेतिया में पति ने पत्नी को चाकू से गोद कर हत्या की

हत्या

Newspoint24/संवाददाता /एजेंसी इनपुट के साथ

बेतिया। पश्चिम चंपारण जिले की घटना पति ने अपने नव विवाहिता पत्नी सुनर देवी (21) वर्ष की घर ले जाने के नाम पर मायके से बुलाकर रास्ते में चाकू से गोद गोद कर हत्या की और शव को एनएच 727 के दुबौलिया चौक स्थित पेट्रौल पंप के पास गेहूं के खेत मे फेंक दिया और फरार हो गया।

घटना शुक्रवार की रात की है।शनिवार की अहले सुबह सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम में जीएमसीएच बेतिया भेजा।मामले में अभी कोई एफआईआर नही हुआ है।इंस्पेक्टर सह थानाध्यक्ष अशोक कुमार ने बताया कि विवाहिता के आंख, कान ,सिर छाती,हाथ में तेज धारदार हथियार से गोदा गया है।अत्यधिक रक्तश्राव होने से मौत हुई है।

मृतक के परिजन पोस्टमार्टम में गये है।आवेदन मिलने पर एफआईआर होगी।मृत विवाहिता के पिता मुखलाल महतो गोड़ासेमरा वार्ड नं.14 निवासी ने बताया कि उनके दामाद धुरेन्द्र महतो ने शुक्रवार की रात नौ बजे गोड़ासेमरा आये और उसे बहला फुसलाकर अपने घर करमवा ले जाने के लिये राजी किया।

बाइक पर बिठा के पत्नी को ले गये।मालिक के बुलाने पर सुनर देवी की माता सुमित्रा देवी ने अपने बेटी को जिस हाल में थी, भेज दिया। शनिवार की सुबह क्षत-विक्षत शव दुबौलिया में मिला।उन्होंने बताया कि पति पत्नी में शादी के बाद से अनबन चल रहा था।

बिगत 18 मई 2021 को सुनर देवी की शादी करमवा के हाजमा टोला निवासी स्व. शंकर महतो के पुत्र धुरेन्द्र महतो के साथ हुई थी।शादी के कुछ ही दिनों बाद वह मायके चली आयी।

धुरेन्द्र महतो हाबड़ा में एक राइस मिल में काम करता है।महज एक सप्ताह पहले वह घर आया है।बीते दो दिनों से वह अपनी पत्नी सुनर देवी से मोबाइल से बात करता था।धुरेन्द्र उससे मिलना चाहता था।

शुक्रवार की रात 8 बजे के करीब धुरेन्द्र बाइक से गोड़ासेमरा अपने ससराल पहुंचा।रात में सभी परिजन सो गये थे ,सास सुमित्रा देवी जगी थी।सुमित्रा बताती है कि दामाद के आने पर बेटी को जैसी थी उसी हालात में बाइक पर बिठा दिया।दामाद रुकने को तैयार नही थे।शनिवार की सुबह सुनर देवी का शव गेंहू के खेत मे मिला।
 

Share this story