देश में कोरोना की रफ्तार बेकाबू  : पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस के 90,928 नए मामले , ओमिक्रॉन के मामलों की कुल संख्या बढ़कर 2,630

Uncontrollable speed of corona in the country: 90,928 new cases of corona virus in last 24 hours, total number of cases of Omicron increased to 2,630

कल के मुकाबले ये मामले 56.5 फीसदी बढ़े हैं। वहीं कल कोरोना के 58 हजार नए मामले दर्ज किए गए थे।

इस दौरान सिर्फ 15,389 मरीज ठीक हो सके थे। जबकि 534 लोगों की कोरोना वायरस के कारण मौत हुई थी।

वहीं कोरोना टेस्टिंग की बात करें तो भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद के मुताबिक, भारत में कल कोरोना

वायरस के लिए 14,13,030 सैंपल टेस्ट किए गए, कल तक कुल 68,53,05,751 सैंपल टेस्ट किए जा चुके हैं।

Newspoint24/संवाददाता /एजेंसी इनपुट के साथ

  • कुल मामले: 3,51,09,286
  • सक्रिय मामले: 2,85,401
  • कुल रिकवरी: 3,43,41,009
  • कुल मौतें: 4,82,876
  • कुल वैक्सीनेशन: 1,48,67,80,227


नयी दिल्ली। देश में  कोरोना के मामलों में बहुत तेजी से बढ़ोतरी हे रही है। पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस के 90,928 नए मामले आए। 19,206 रिकवरी हुईं और 325 लोगों की कोरोना से मौत हुई। जिसके बाद कुल मामलों की संख्या 3,51,09,286 हो गई है।वहीं एक्टिव केस की संख्या 2,85,401 है। जिसके बाद कुल 3,43,41,009 लोगों की रिकवरी की गई। 325 मौतें के बाद कुल 4,82,876 मौतें हो गई हैं। अगर वैक्सीनेशन की बात की जाए तो देश में अब तक 1,48,67,80,227 लोगों का वैक्सीनेशन हुआ है।

कल के मुकाबले ये मामले 56.5 फीसदी बढ़े हैं। वहीं कल कोरोना के 58 हजार नए मामले दर्ज किए गए थे। इस दौरान सिर्फ 15,389 मरीज ठीक हो सके थे। जबकि 534 लोगों की कोरोना वायरस के कारण मौत हुई थी।वहीं कोरोना टेस्टिंग की बात करें तो भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद के मुताबिक, भारत में कल कोरोना वायरस के लिए 14,13,030 सैंपल टेस्ट किए गए, कल तक कुल 68,53,05,751 सैंपल टेस्ट किए जा चुके हैं।

महाराष्ट्र और दिल्ली में ओमिक्रॉन से बुरा हाल

देश में ओमिक्रॉन के मामलों की कुल संख्या बढ़कर 2,630 हो गई है। महाराष्ट्र और दिल्ली में ओमिक्रॉन के सबसे ज्यादा 797 और 465 मामले सामने आए हैं। ओमिक्रॉन के 2,630 मरीजों में से 995 मरीज रिकवर हो गए हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय ने इसकी जानकारी दी।

 कोरोना का यह नया वेरिएंट 26 राज्यों में पांव पसार चुका है

ओमिक्रॉन के खतरे को देखते हुए केंद्र सरकार ने राज्यों को त्वरित उपाय करने के लिए कहा है। विभिन्न राज्य सरकारों ने कोरोना महामारी के प्रकोप से बचने के लिए नाइट कर्फ्यू, वीकेंड कर्फ्यू, आधी क्षमता के साथ दफ्तर चलने और स्कूल-कॉलेज बंद करने समेत कई कड़ी पाबंदियां लागू की हुई हैं। दिल्ली में अब वीकेंड कर्फ्यू लगा दिया है। यानी शनिवार और रविवार को कर्फ्यू रहेगा और इस दौरान बेवजह घर से बाहर निकलने पर पाबंदी रहेगी।


डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने बताया कि ओमिक्रॉन संक्रमितों को अस्पताल में भर्ती होने की जरूरत नहीं पड़ रही और इसके लक्षण भी हल्के हैं, इसलिए ज्यादा सख्त पाबंदी नहीं लगाई जा रही है। दूसरी ओर, ग्रेडेड रिस्पांस एक्शन प्लान के तहत एक यलो अलर्ट पहले से ही लागू है, जिसमें रात 10 बजे से सुबह 5 बजे के बीच नाइट कर्फ्यू लगाया गया है। इसके अलावा शैक्षणिक संस्थानों, जिम और सिनेमाघरों को बंद करने सहित अन्य प्रतिबंध लागू किए गए हैं।

राज्यों के पास 18.43 करोड़ से अधिक बिना इस्तेमाल डोज मौजूद

राज्यों/संघ राज्य क्षेत्रों को अब तक सरकार के माध्यम से 153.90 करोड़ (1,53,90,03,655) से अधिक टीके की खुराक प्रदान की जा चुकी है। भारत के (मुफ्त चैनल) और प्रत्यक्ष राज्य खरीद श्रेणी के माध्यम से वैक्सीन सप्लाई हो रही हैं। 18.43 करोड़ से अधिक (18,43,66,611) शेष और अप्रयुक्त COVID वैक्सीन खुराक अभी भी राज्यों / केंद्रशासित प्रदेशों के पास उपलब्ध हैं, जिन्हें लगाया जाना है।

यह भी पढ़ें : 

दिल्ली में फैल रहे कोरोनावायरस के मद्देनजर वीकेंड कर्फ्यू लगाने का फैसला

Share this story