शनि जयंती 10 जून 2021 : अमावस्या पर कैसे करें शनि देव की पूजा और इन्हें प्रसन्न करने के कुछ विशेष उपाय 

Newspoint24 / newsdesk  Shani Jayanti 10 June 2021: How to worship Shani Dev on Amavasya and some special measures to please him

Newspoint24 / newsdesk / ज्योतिषाचार्य गुरु बेचन त्रिपाठी ,दुर्गा मंदिर ,दुर्गा कुंड , वाराणसी

किन पर है शनि ढैय्या और साढ़े साती ?

 मिथुन और तुला वालों पर शनि की ढैय्या चल रही है। वहीं धनु, मकर और कुंभ वाले जातक शनि साढ़े साती की चपेट में हैं। धनु वालों पर शनि साढ़े साती का आखिरी चरण, मकर वालों पर दूसरा और कुंभ वालों पर इसका पहला चरण चल रहा है।

शनि जयंती कब और क्यों मनाई जाती है ?

 शनि जयंती ज्येष्ठ माह की अमावस्या को मनाई जाती है। 9 जून को दोपहर 1 बजकर 57 मिनट से अमावस्या लग रही है और इसकी समाप्ति 10 जून को 4 बजकर 22 मिनट पर होगी। ऐसे में शनि जयंती 10 जून को मनाई जाएगी। मान्यता है कि इस दिन शनि भगवान का जन्म हुआ था। इसलिए इस दिन शनि देव की पूजा अर्चना करना फलदायी माना गया है। जीवन में आ रही परेशानियां दूर होती हैं।

शनि देव को प्रसन्न करने के लिए ऐसे करें पूजा

 इस दिन सुबह जल्दी उठकर स्नान कर स्वच्छ वस्त्र धारण कर लें। पूजा स्थान पर शनि भगवान को याद करते हुए दीपक जलाएं। शनि भगवान को तेल अर्पित करें। फूल चढ़ाएं और भोग लगाएं। शनि भगवान की आरती उतारें। शनि चालीसा का पाठ करें। मंत्रों का जाप करें। शनि स्त्रोत का पाठ करें। इस विधि से इस दिन शनि पूजा करने से शनि देव प्रसन्न होते हैं।

शनि मंत्र:

-ॐ शं नो देवीरभिष्टय आपो भवन्तु पीतये।

शं योरभि स्त्रवन्तु न:।।

-ॐ शं शनैश्चराय नमः।।

-ॐ प्रां प्रीं प्रौं सः शनैश्चराय नमः।।

शनि जयंती के उपाय 

-शनिदेव के आराध्य भगवान शिव हैं। इसलिए शनि जयंती के दिन शनि देव के साथ भगवान शिव की पूजा करना भी शुभ फलदायी माना जाता है। इस दिन शिवजी का काले तिल मिले हुए जल से अभिषेक करना चाहिए। इससे शनि पीड़ा से मुक्ति मिलती है।

-शनि दोष की शांति के लिए शनि जयंती पर महामृत्युंजय मंत्र या ‘ॐ नमः शिवाय’ का जाप किया जाता है।

50+ Amazing Lord Hanuman Images - Vedic Sources

-कहते हैं कि भगवान हनुमान जी की पूजा से भी शनि देव प्रसन्न होते हैं इसलिए इस दिन हनुमान चालीसा का पाठ करें। साथ ही सुंदरकाण्ड का पाठ करना चाहिए इससे शनि देव प्रसन्न होते हैं।

-शनिदेव की कृपा पाने के लिए शनि जयंती पर व्रत भी रख सकते हैं।

-इस दिन गरीब लोगों की सहायता करें ऐसा करने से कष्ट दूर होते हैं। इस दिन शनिदेव से संबंधित वस्तुएं जैसे तेल, काली उड़द, काले वस्त्र, लोहा, काला कंबल आदि चीजें दान कर सकते हैं।

-शनि जयंती पर एक कटोरी में सरसों का तेल लेकर उसमें अपना चेहरा देखकर तेल को कटोरी सहित शनि मंदिर या शनि का दान लेने वालों को दान कर दें। ऐसा करने से शनि देव की कृपा बनती है।

Share this story