बदरीनाथ धाम  राज महल में निकाला गया तिल का तेल 18 मई को खुलने हैं कपाट 

बदरीनाथ धाम राज महल में निकाला गया तिल का तेल 18 मई को खुलने हैं कपाट

Newspoint24/newsdesk
 

नरेंद्र नगर के राज महल में निकाला गया तिल का तेल, भगवान के लेपन में उपयोग किया जाएगा 
18 मई को खुलने हैं कपाट 


ऋषिकेश । भगवान बदरीनाथ मंदिर के 18 मई को खुलने वाले कपाट की प्रक्रिया शुरू हो गई है। गुरुवार को  नरेंद्र नगर के राज महल में सुहागिन महिलाओं ने पीले वस्त्र धारण कर कोविड-19 का पालन करते हुए तिल के तेल की पिराई कर गाडू घड़े को बदरीनाथ धाम के लिए पूजा -अर्चना के बाद रवाना किया।  यह जानकारी बदरीनाथ केदारनाथ मंदिर समिति तथा देवस्थानम बोर्ड के मीडिया अधिकारी हरीश गौड़ ने दी।


उन्होंने बताया कि भगवान की ज्योति में जलने व लेपन में उपयोग किए जाने वाले तिल के तेल को टिहरी सांसद महारानी राज्य लक्ष्मी शाह व पंडित शिवानंद जोशी के संचालन में निकाला गया। तेल से भरे  गाडू घड़े को डिमरी धार्मिक केंद्रीय पंचायत के प्रतिनिधियों को सौंपा गया। यह गाडू घड़े 17 मई की शाम बदरीनाथ धाम पहुंचेंगे। इससे पहले यह घड़ा डिमर गांव के लक्ष्मी नारायण मंदिर में पहुंचेगा। गाडू घड़े को राज महल में डिमरी पंचायत के प्रतिनिधि पंकज डिमरी, नरेश डिमरी, दिनेश डिमरी, ज्योतिष डिमरी, अंकित एवं अरविंद डिमरी को सौंपा गया। 

Share this story