पंचांग 12 सितम्बर 2021 रविवार भाद्रपद शुक्ल पक्ष, षष्ठी पढ़ें ज्येष्ठ गौरी पूजा मुहूर्त

aaj ka panchang

newspoint 24 / newsdesk / ज्योतिषाचार्य पं बेचन त्रिपाठी दुर्गामंदिर ,दुर्गाकुंड वाराणसी

p

पंचांग 12 सितम्बर 2021 रविवार newspoint24 logo

p12 sep

सूर्योदय    05:51  प्रातः     सूर्यास्त    06:09  सायं 
चन्द्रोदय    10:54 प्रातः     चन्द्रास्त    09:59 रात्रि 

शक सम्वत    1943 प्लव
विक्रम सम्वत    2078 आनन्द
चन्द्रमास    भाद्रपद - पूर्णिमान्त
भाद्रपद - अमान्त
द्रिक ऋतु    शरद
वैदिक ऋतु    वर्षा
वैदिक अयन    दक्षिणायण

तिथि    षष्ठी - 05:20 सायं तक उपरांत सप्तमी
नक्षत्र    विशाखा - 09:50 प्रातः तक उपरांत अनुराधा
योग    वैधृति - 11:44 दोपहर पूर्व तक उपरांत     विष्कम्भ
करण    कौलव - 06:28 प्रातः तक उपरांत तैतिल - 05:20 सायं तक उपरांत गर - 04:14 प्रातः , सितम्बर 13 तक उपरांत वणिज
वार    रविवार
पक्ष    शुक्ल पक्ष

ब्रह्म मुहूर्त    04:10 प्रातः से 04:56 प्रातः 
प्रातः सन्ध्या    04:33 प्रातः  से 05:43 प्रातः 
सायाह्न सन्ध्या    06:05 सायं से 07:15 रात्रि 
अभिजित मुहूर्त    11:29 दोपहर पूर्व से 12:19 दोपहर
विजय मुहूर्त    01:58 दोपहर से 02:47 दोपहर
गोधूलि मुहूर्त    05:53 सायं  से 06:17 सायं
अमृत काल    10:37 रात्रि से 12:07 मध्यरात्रि , सितम्बर 13
निशिता मुहूर्त    11:31 रात्रि से  12:17 मध्यरात्रि, सितम्बर 13
रवि योग    05:43 प्रातः से 09:50 प्रातः 

राहुकाल    04:30 दोपहर  से 06:00 सायं 
यमगण्ड    11:54 दोपहर पूर्व से  01:27 दोपहर
दुर्मुहूर्त    04:26 दोपहर से 05:16 सायं 
वर्ज्य    01:36 दोपहर से 03:06 दोपहर 

व्रत एवं पर्व :

ज्येष्ठ गौरी आवाहन मुहूर्त - 09:50 प्रातः से 06:05 सायं 
ज्येष्ठ गौरी पूजा सोमवार, सितम्बर 13, 2021 को
( ज्येष्ठ गौरी पूजा एक महाराष्ट्रीयन त्योहार है जो ज्यादातर मराठी समुदाय के लोगों के बीच मनाया जाता है। )


होमाहुति    बुध - 09:50 प्रातः तक उपरांत शुक्र
दिशा शूल    पश्चिम
चन्द्र वास    उत्तर
राहु वास    उत्तर
अग्निवास    पृथ्वी - 05:20 सायं तक उपरांत आकाश
राहु वास    उत्तर
शिववास    नन्दी पर - 05:20 सायं तक उपरांत भोजन में

इन राशियों  के लिए उत्तम चन्द्रबलम अगले दिन सूर्योदय तक
वृषभ मिथुन कन्या वृश्चिक मकर कुम्भ
मेष राशि में जन्में लोगो के लिए अष्टम चन्द्र
अश्विनी, भरणी, कृत्तिका के प्रथम पद में जन्में लोगो के लिए अष्टम चन्द्र

Share this story