पंचांग 23 जुलाई 2021 शुक्रवार आषाढ़ शुक्ल पक्ष, चतुर्दशी , आषाढ़ पूर्णिमा व्रत

panchang

Newspoint 24 / newsdesk 

ज्योतिषाचार्य गुरु बेचन त्रिपाठी ,दुर्गा मंदिर ,दुर्गा कुंड , वाराणसी

पंचांग 23 जुलाई 2021 शुक्रवार आषाढ़ शुक्ल पक्ष, चतुर्दशी , आषाढ़ पूर्णिमा व्रत


सूर्योदय    05:20 प्रातः 
    सूर्यास्त    06:40 सायं 
चन्द्रोदय    06:26 सायं 
    चन्द्रास्त    05:12 प्रातः , जुलाई 24

तिथि    चतुर्दशी - 10:43 प्रातः  तक उपरांत पूर्णिमा
नक्षत्र    पूर्वाषाढा - 02:26 पी एम तक उपरांत उत्तराषाढा
योग    वैधृति - 09:24 प्रातः तक उपरांत विष्कम्भ 
करण    वणिज - 10:43 प्रातः तक
विष्टि - 09:22 रात्रि तक उपरांत विष्टि - 09:22 पी एम तक उपरांत बव
वार    शुक्रवार        
पक्ष    शुक्ल पक्ष

* व्रत - पर्व : पूर्णिमा व्रत ,सत्य व्रत ,  आषाढ़ पूर्णिमा व्रत 

अमांत - आषाढ़
पूर्णिमांत - आषाढ़
शक संवत (राष्ट्रीय कलैण्डर) - श्रावण 1, 1943
वैदिक ऋतु - ग्रीष्म
द्रिक ऋतु - वर्षा
अयन दक्षिणायन 
वैदिक अयन    दक्षिणायन 

सूर्य कर्क राशि पर 
चन्द्रमा जुलाई 23, 07:58 रात्रि तक धनु राशि उपरांत मकर राशि पर संचार करेगा

ब्रह्म मुहूर्त    03:56 प्रातः से 04:39 प्रातः
    प्रातः सन्ध्या    04:17 प्रातः से 05:21 प्रातः
अभिजित मुहूर्त    11:37 दोपहर पूर्व से  12:31 दोपहर तक 
    विजय मुहूर्त    02:19 दोपहर से 03:13 दोपहर तक 
गोधूलि मुहूर्त    06:35 सायं से 06:59 सायं 
    सायाह्न सन्ध्या    06:48 सायं से 07:51 रात्रि 
अमृत काल    10:02 प्रातः से 11:30 दोपहर पूर्व तक 
    निशिता मुहूर्त    11:43 रात्रि से 12:26 मध्यरात्रि , जुलाई 24
रवि योग    05:21 प्रातः  से 02:26 दोपहर तक 

राहू - 10:30 प्रातः से  – 12:00 दोपहर तक 
यम गण्ड - 3:24 दोपहर से  – 5:04 दोपहर तक 
कुलिक - 7:04 प्रातः से  – 8:44 प्रातः तक 
दुर्मुहूर्त - 08:04 प्रातः से – 08:58 प्रातः तक , 12:31 दोपहर से  – 01:24 दोपहर तक 
वर्ज्यम् - 09:50 रात्रि से  – 11:19 रात्रि तक 
भद्रा    10:43 प्रातः से 09:22 रात्रि तक 


होमाहुति    चन्द्र    
दिशा शूल    पश्चिम
अग्निवास    आकाश - 10:43 प्रातः तक उपरांत पाताल
चन्द्र वास    पूर्व - 07:58 रात्रि तक उपरांत दक्षिण - 07:58 रात्रि से पूर्ण रात्रि तक
राहु वास    दक्षिण-पूर्व
भद्रावास    पाताल - 10:43 प्रातः  से 09:22 रात्रि तक
शिववास    भोजन में - 10:43 प्रातः तक उपरांत श्मशान में

निम्न राशि के लिए उत्तम चन्द्रबलम 07:58 पी एम तक
मिथुन  कर्क  तुला  धनु  कुम्भ  मीन
वृषभ राशि में जन्में लोगो के लिए अष्टम चन्द्र
कृत्तिका के अन्तिम 3 पद, रोहिणी, मॄगशिरा के प्रथम 2 पद में जन्में लोगो के लिए अष्टम चन्द्र

Share this story