लखनऊ में ढाई साल की बच्ची को कार ने रौंदा

लखनऊ के अलीगंज इलाके में ढाई साल की मासूम को कार सवार ने रौंद दिया

Newspoint24/newsdesk/एजेंसी इनपुट के साथ

 

लखनऊ । अलीगंज इलाके में ढाई साल की मासूम को कार सवार ने रौंद दिया। बच्चे मोहल्ले में खड़ी कार के पास खेल रहे थे। तभी ड्राइवर ने कार आगे बढ़ा दी। जिसके नीचे मासूम आ गई। परिजनों ने बच्ची को अस्पताल पहुंचाया जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया।

कन्नौज की रहने वाले मनोज 8 दिन पहले अपने परिवार के साथ अलीगंज के मिर्जापुर में ससुराल आए थे। बेटी शिवांशी गुरुवार शाम करीब 6:30 बजे मोहल्ले के अन्य बच्चों के साथ सड़क पर खेल रही थी। तभी कार ड्राइवर ने गाड़ी आगे बढ़ा दी।

बच्ची की मौत के बाद मां का रो-रोकर बुरा हाल है।

(बच्ची की मौत के बाद मां का रो-रोकर बुरा हाल है।)

 

 

शिवांशी कार के अगले पहिए के नीचे आ गई। भागने की कोशिश में कार का पहिया दो बार बच्ची पर चढ़ा। बच्ची की चीख सुनकर आसपास भीड़ जमा हो गई। इसके बाद मोहल्ले के लोगों की मदद से बच्ची को केजीएमयू अस्पताल पहुंचाया गया। जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। घटना के बाद से परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। पुलिस को अभी कोई तहरीर नहीं मिली है। हालांकि कार को पुलिस ने कब्जे में ले लिया है।

हादसे के बाद लोगों ने हंगामा किया। पुलिस ने कार को कब्जे में ले लिया है।

(हादसे के बाद लोगों ने हंगामा किया। पुलिस ने कार को कब्जे में ले लिया है।)

 

दो बार चढ़ा पहिया

प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया, गुरुवार शाम शिवांशी घर के बाहर खेल रही थी। तभी तेज रफ्तार कार (यूपी 32 एनजे 4174) गली में आकर रुकी। बच्चे वहीं खेल रहे थे। तभी कार ने बच्ची को टक्कर मार दी। बच्ची अगले पहिए कि नीचा आ गई। चीख सुनकर ड्राइवर ने गाड़ी बैक की तो पहिया बच्ची के सिर पर चढ़ गया।

पुलिस पूछताछ में गाड़ी के ड्राइवर मनीष ने बताया कि वह गाड़ी में बैठते समय आगे खेल रहे बच्चों को देख नहीं पाए। जिसकी वजह से उन्होंने गाड़ी आगे बढ़ा दी। अगर वह बच्चों को देखे होते हैं तो गाड़ी नहीं बढ़ाते। इसके बाद खुद ही अस्पताल लेकर गए लेकिन डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया।

Share this story