काशी के कोतवाल बाबा काल भैरव की निकली भव्य शोभायात्रा:हजारों श्रद्धालु हुए शामिल

काशी के कोतवाल बाबा काल भैरव की निकली भव्य शोभायात्रा:हजारों श्रद्धालु हुए शामिल

Newspoint24/newsdesk/एजेंसी इनपुट के साथ 

 

वाराणसी। काशी के कोतवाल बाबा श्री कालभैरव जी के स्वर्ण रजत निर्मित पंचबदन प्रतिमा की भव्य शोभायात्रा निकाली गई। यात्रा में रथ पर सवार बाबा की स्वर्ण रजत प्रतिमा के साथ आगे ध्वजा पताका लिए श्रद्धालु चल रहे थे। कमेटी के लोगों ने पहले बाबा की आरती उतारी और जयकारा लगाया। शोभा यात्रा में माँ काली, मां दुर्गा स्वरूपा कलाकार भी अपने करतब दिखा रहे थे।

काशी में निकली बाबा काल भैरव की शोभायात्रा।

(काशी में निकली बाबा काल भैरव की शोभायात्रा।)

 

40 स्थानों पर पुष्प वर्षा कर लोगों ने किया शोभायात्रा का स्वागत

अध्यक्ष कमल कुमार सिंह ने बताया कि बाबा के स्वागत हेतु विभिन्न सामाजिक संगठनों तथा बाबा के भक्तों द्वारा लगभग 40 स्थानों पर पूजा अर्चना किया गया। उन्होंने बताया कि भव्य शोभायात्रा के कुशल संचालन में संस्था के मंत्री राजू वर्मा की अहम भूमिका रही। स्वर्णकार क्षत्रिय कमेटी के महामंत्री श्याम कुमार सराफ ने बताया कि शोभायात्रा काठ की हवेली, चौखंभा से प्रारंभ होकर बीवी हटिया, जतनबर, विशेश्वरगंज, महामृत्युंजय, दारानगर, मैदागिन, बुलानाला, चौक, नारियल बाजार, गोविंदपुरा, ठठेरी बाजार, सोराकुआं, गोलघर, भुतही इमली होते हुए कालभैरव मंदिर पर जाकर संपन्न हुई।

शोभायात्रा में कलाकारों ने दिखाया करतब।

(शोभायात्रा में कलाकारों ने दिखाया करतब।)

स्वर्णकार क्षत्रिय कमेटी ने निकाली शोभायात्रा।

(स्वर्णकार क्षत्रिय कमेटी ने निकाली शोभायात्रा।)

साल 1954 में शुरू हुई थी परंपरा

स्वर्णकार क्षत्रिय कमेटी के अध्यक्ष कमल कुमार सिंह ने बताया कि स्वर्ण रजत प्रतिमा का निर्माण हमारे स्वर्णकार समाज के विष्णु सेठ के प्रयास से 1954 में किया गया था। तभी से यह शोभायात्रा निकाली जा रही है। इसमें स्वर्णकार समाज के सहयोग से स्वर्ण और रजत की प्रतिमा बनवाई। उसके बाद काठ की हवेली चौखंबा से उठकर यह प्रतिमा काल भैरव मंदिर पहुंचती है। यह शोभायात्रा समाज के उत्थान के लिए निकाली गई। इससे स्वर्णकार क्षत्रिय समाज के साथ ही साथ काशी का हर आम और खास व्यक्ति जुड़ा हुआ है।

फूल मालाओं से बाबा का किया गया श्रृंगार।

(फूल मालाओं से बाबा का किया गया श्रृंगार।)

शाम को होगी बाबा की भव्य आरती

शोभा यात्रा का काल भैरव मंदिर में भव्य स्वागत हुआ। दिनभर भक्त बाबा के स्वर्ण और रजत की प्रतिमा का दर्शन पूजन करेंगे। दिनभर बसंत पूजन का सिलसिला चलता रहेगा। रात्रि 11 बजे बाबा का भव्य आरती होगी।

बाबा काल भैरव मंदिर में बाबा का किया गया है भव्य श्रृंगार।

बाबा काल भैरव मंदिर में बाबा का किया गया है भव्य श्रृंगार।

Share this story