टीचर को कैंडी क्रश खेलते DM ने पकड़ा:संभल में अचानक स्कूल पहुंचे

टीचर को कैंडी क्रश खेलते DM ने पकड़ा:संभल में अचानक स्कूल पहुंचे

Newspoint24/newsdesk/एजेंसी इनपुट के साथ

 

संभल । डीएम ने प्राइमरी स्कूल के टीचर को स्कूल में कैंडी क्रश गेम खेलते पकड़ लिया। मोबाइल की हिस्ट्री चेक की तो हैरान रह गए। मास्टर साहब करीब 3 घंटे से मोबाइल में व्यस्त थे। करीब डेढ़ घंटे से तो गेम खेल रहे थे। इस दौरान यूट्यूब-फेसबुक और इंस्टाग्राम भी चलाया।

डीएम डॉ. राजेंद्र पैंसिया ने टीचर प्रियम गोयल को जमकर फटकार लगाई। फिर बच्चों की कॉपियां चेक कीं। 1 पेज में 30 गलतियां मिलीं। यह देखकर डीएम नाराज हो गए। उन्होंने प्रियम गोयल को सस्पेंड करने के आदेश दे दिए। मामला गांव शरीफपुर के प्राइमरी स्कूल का है।

 

डीएम ने क्लास रूम में बैठकर बच्चों की कॉपियां चेक की। इनमें कई गलतियां मिलीं।

रसोई से लेकर क्लास रूम तक चेक किया
डीएम राजेंद्र पैंसिया बुधवार को निरीक्षण के लिए शरीफपुर के प्राइमरी स्कूल पहुंच गए। स्कूल में 5 सहायक टीचर, 2 महिला शिक्षामित्र हैं।​​​​​​ अचानक स्कूल में डीएम को देखकर टीचर्स में अफरा-तफरी मच गई। डीएम ने टीचर्स से एक-एक करके डिटेल में पूछताछ की। रसोई से लेकर क्लास रूम तक का निरीक्षण किया। प्रिंसिपल के रजिस्टर को चेक किया। बच्चों से भी बातचीत की।

टीचर से अटेंडेंस दिखाने को कहा तो आनाकानी की
डीएम ने बताया- मैंने सहायक टीचर प्रियम से डिजिटल अटेंडेंस दिखाने के लिए कहा, तो वह आनाकानी करने लगे। इस पर उनका मोबाइल चेक किया। देखा तो कैंडी क्रश सागा गेम खेल रहे थे। फिर उनका फोन चेक करवाया तो टीचर 3 घंटे से मोबाइल ही चला रहे थे। मैंने इसकी जानकारी BSA अलका शर्मा को दी।

डीएम बोले- टीचर्स की जांची हुई कॉपियों में मिली गलतियां
डीएम ने कहा- मैंने टीचर्स की जांची हुई कॉपियां चेक कीं। सभी में गलतियां मिलीं। पहले टीचर की चेक कॉपी में 9, दूसरे की 23, तीसरे की 11 और चौथे की 21 गलतियां मिलीं। एक छात्र की कॉपी में तो एक पेज में 30 गलतियां थीं।

डीएम ने बताया- टीचरों का काम बच्चों का होमवर्क चेक करना होता है। ऐसे में एक पेज में इतनी गलतियां बच्चों के भविष्य के साथ खिलवाड़ है। ऐसे टीचर बच्चों को क्या सिखाएंगे? मैंने टीचर्स से काम में सुधार लाने को कहा है। 2 महिला टीचरों का काम बेहतर मिला। वो बच्चों को अच्छे तरीके से पढ़ा रही थीं। हम यही चाहते हैं कि सभी स्कूलों के शिक्षक अच्छे से पढ़ाएं।

स्कूल के निरीक्षण के दौरान टीचर्स और स्टाफ को दिशा-निर्देश देते डीएम।

स्कूल के निरीक्षण के दौरान टीचर्स और स्टाफ को दिशा-निर्देश देते डीएम।

टीचर बोला- स्कूल में नहीं, बस में कैंडी क्रश खेला
दैनिक भास्कर ने इस मामले में टीचर प्रियम गोयल से बात की। उन्होंने कहा- मैं रात को एक शादी में गया था। वहां से बस से आया था। बस में मैंने कैंडी क्रश खेला था। स्कूल में कैंडी क्रश नहीं खेल रहा था। रात को 12 बजे के बाद समय शुरू होता है। जब डीएम सर आए तो उन्होंने मेरा मोबाइल मांगा। मैंने अपना मोबाइल दिया।

मोबाइल में डिटेल 12 बजे के बाद की शो होती है। समय पर मैं स्कूल पहुंच गया था। मेरा मोबाइल अभी स्क्रीन पर लगा है। मैं आपसे बात कर रहा हूं तो यह भी रिकॉर्ड हो रहा है कि मैंने इतने टाइम पर आपसे बात की। इसलिए ज्यादा समय में आपसे बात नहीं कर सकता हूं। टीचर की पहली पोस्टिंग दिसंबर-2020 में गांव शरीफपुर के प्राइमरी स्कूल में हुई थी।

डीएम ने स्कूल के बच्चों से काफी देर तक बातचीत की। उनसे सवाल भी पूछे।

Share this story