जीत के बाद पहली बार मोदी वाराणसी दौरे पर:विश्ननाथ मंदिर में पूजा की

जीत के बाद पहली बार मोदी वाराणसी दौरे पर:विश्ननाथ मंदिर में पूजा की

Newspoint24/newsdesk 

 

वाराणसी।  तीसरी बार PM बनने के बाद मोदी पहले वाराणसी दौरे पर हैं। पीएम ने 9.60 करोड़ किसानों को सम्मान निधि की 17वीं किस्त जारी की। उन्होंने 20 हजार करोड़ रुपए किसानों के खाते में डाले।

पीएम ने 27 मिनट तक भाषण दिया। मोदी का फोकस किसान, महिला, विकास और काशी पर रहा। उन्होंने विपक्ष और राजनीति की बात नहीं की।

पीएम ने कहा- चुनाव जीतने के बाद हम पहली बार बनारस आइल हईं। जनता जनार्दन के हमार प्रणाम, काशी के लोगों ने हमें लगातार अपना प्रतिनिधि चुनकर धन्य कर दिया है। अब तो मां गंगा ने भी मुझे गोद ले लिया है। मैं यहीं का हो गया हूं। मैं चाहता हूं, दुनिया के हर घर में डायनिंग टेबल पर भारतीय अनाज हो।

जनसभा स्थल से पीएम दशाश्वमेध घाट पर पहुंचे। यहां योगी के साथ 15 मिनट तक गंगा आरती की। पीएम थोड़ी देर में 8 किमी लंबा रोड-शो करेंगे। वो काशी विश्‍वनाथ मंदिर पहुंच चुके हैं, यहां वे षोडशोपचार कर विशेष पूजन करेंगे। इसके बाद कालभैरव का दर्शन करेंगे। यह पीएम का 51वां वाराणसी दौरा है।

दशाश्मेध घाट पर गंगा आरती में संकल्प लेते मोदी।

(दशाश्मेध घाट पर गंगा आरती में संकल्प लेते मोदी।)

 

किसान सम्मेलन में छत्तीसगढ़ की सरगुजा की रहने वाली अनीता को कृषि सखी का प्रमाण पत्र देते पीएम मोदी।

(किसान सम्मेलन में छत्तीसगढ़ की सरगुजा की रहने वाली अनीता को कृषि सखी का प्रमाण पत्र देते पीएम मोदी।)

पीएम मोदी ने 8 किलोमीटर का रोड शो किया

पीएम मोदी ने 8 किलोमीटर का लंबा रोड शो किया। जगह-जगह पर फूल बरसाकर लोगों ने उनका स्वागत किया। पीएम ने भी हाथ हिलाकर लोगों का अभिवादन स्वीकार किया।

काशी विश्वनाथ मंदिर में पीएम मोदी ने पूजा की

पीएम ने षोडशोपचार के साथ काशी पुराधिपति की विशेष पूजा में संकल्प लिया। पाद्य, अर्घ्य, आमचन, स्नान, वस्त्र, उपवस्त्र यज्ञोपवीत अर्पित किया। रुद्र सूक्त का पाठ भी किया।

अर्चकों ने किया भव्य शंखनाद

दशाश्वमेध घाट पर मां गंगा की आरती के समापन से पहले अर्चकों ने भव्य शंखनाद किया। शंखनाद से पूरा घाट गूंज उठा। श्रद्धालुओं ने हर-हर महादेव और जय मां गंगा का जयघोष किया।

आरती का अंतिम चरण...मोर पंख आरती से हुआ। 'देवी सुरेश्वरी भगवती गंगे' उच्चारण के साथ आरती का समापन हुआ।

 

पीएम ने कहा-माता-बहनों के बिना खेती की कल्पना संभव नहीं

पीएम ने कहा- माता-बहनों के बिना खेती की कल्पना संभव नहीं है। बहनों की भूमिका का विस्तार किया जा रहा है। कृषि सखी कार्यक्रम ऐसा ही एक प्रयास है। काशी में बनास डेयरी संकुल की स्थापना हुई। काशी और पूर्वांचल के किसान मजबूत हुए हैं।

बनास डेयरी ने पशु पालकों का भाग्य बदलने का काम किया। डेढ़ साल में काशी के 16 हजार पशु पालकों को अपने साथ जोड़ने जा रही। दूध उत्पादकों की कमाई में वृद्धि हुई है।

मेरा सपना दुनिया की हर डाइनिंग टेबल पर भारत का कोई खाद्यान्न जरूर हो

पीएम ने कहा-मैंने किसान, नौजवान, नारी शक्ति को विकसित भारत का मजबूत स्तंभ माना है। इसलिए मैंने सरकार बनने के बाद सबसे पहले इन्हीं को प्राथमिकता में रखा, सरकार बनने के बाद किसानों से जुड़ा।

पीएम किसान सम्मान निधि दुनिया की सबसे बड़ी ट्रांसफर निधि बन चुकी है। मेरा सपना है दुनिया की हर डाइनिंग टेबल पर भारत का कोई न कोई खाद्यान्न यानी फूड प्रोडक्ट होना चाहिए।

बनारस का लंगड़ा आम, जौनपुर की मूली, गाजीपुर की भिंडी ऐसे अनेक उत्पाद विदेशी मार्केट में पहुंच रहे हैं।

60 साल में पहली बार किसी सरकार ने हैट्रिक लगाई

पीएम ने कहा- अभी मैं जी-7 की मीटिंग के लिए इटली गया था। सारे देशों के सारे वोटर्स को मिला दें तो भी भारत के वोटर्स की संख्या उनसे डेढ़ गुना ज्यादा है। इस चुनाव में 31 करोड़ से ज्यादा महिलाओं ने हिस्सा लिया है।

पीएम ने कहा- काशी के लोगों ने तो सिर्फ सांसद नहीं, तीसरी बार पीएम भी चुना है। इस चुनाव में जो जनादेश दिया है वह अभूतपूर्व है। लोकतांत्रिक देशों में ऐसा बहुत कम ही देखा गया है। कोई चुनी हुई सरकार लगातार तीसरी बार वापसी करे।

भारत की जनता ने यह भी इस बार करके दिखाया है। ऐसा भारत में 60 साल पहले हुआ था। तब से भारत में किसी सरकार ने हैट्रिक नहीं लगाई। आपने यह सौभाग्य अपने सेवक को दिया।

मोदी ने हर-हर महादेव के साथ भाषण की शुरुआत की

पीएम मोदी ने हर-हर महादेव से भाषण शुरू किया। चुनाव जीतने के बाद आज हम पहली बार बनारस आइल है। काशी के जनता जनार्दन के हमारा प्रणाम। बाबा विश्वनाथ और मां गंगा के आशीर्वाद, काशी के असीम स्नेह से मुझे तीसरी बार देश का प्रधान सेवक बनने का सौभाग्य मिला है।

काशी के लोगों ने मुझे लगातार तीसरी बार अपना प्रतिनिधि चुनकर धन्य कर दिया है। अब तो मां गंगा ने भी जैसे मुझे गोद ले लिया है। मैं यहीं का हो गया।

इतनी गर्मी के बावजूद बड़ी संख्या में आप आशीर्वाद देने आए। आपकी तपस्या देखकर सूर्य देवता भी ठंडक बरसाने लग गए।

शिवराज सिंह ने कहा-किसानों के लिए पीएम की तड़प देखी

शिवराज सिंह ने कहा कि पीएम ने किसानों को साहूकार के चंगुल से मुक्त कराया है। पहले की सरकार बातें करती थी।

मोदी सरकार ने कर दिया है। मैंने पीएम की वह तड़प देखी है कि यह धरती सिर्फ हमारे लिए नहीं आने वाली पीढ़ी के लिए भी है।

मैं उनकी इस तड़प को प्रणाम करता हूं। पीएम ने कहा गरीब बहनों को लखपति दीदी बनाएंगे। कृषि सखी के प्रमाण पत्र वितरित किए जाएंगे।

​​​​​​​

शिवराज सिंह ने कहा-किसान भाजपा के लिए भगवान

शिवराज सिंह चौहान ने भारत माता और किसान भाइयों की जय के साथ भाषण की शुरुआत की। कहा-मोदी तीसरी बार पीएम बनकर आए तो मौसम भी बदल रहा है।

कल तक भीषण गर्मी थी, आज मौसम सुहावना हो गया। जनता ने अभूतपूर्व समर्थन किया। कृषि अर्थव्यवस्था की रीढ़, किसान आत्मा है। भाजपा के लिए किसान भगवान है। भाजपा सरकार किसानों के सम्मान में लगी है।

पहली फाइल पीएम बनने के बाद किसान सम्मान निधि की साइन की। पहला कार्यक्रम भी किसानों के बीच हो रहा है। सवा नौ करोड़ किसानों के खाते में 20 हजार करोड़ रुपए किसानों के खाते में डालेंगे। किसानों की आय दोगुनी करने का जो रोडमैप है उस पर काम किया जा रहा है।

​​​​​​​

 

Share this story