वाराणसी :चोरी का आरोपी किशोर हुआ फरार, संप्रेक्षण गृह में 12 अक्टूबर से था बंद; बढ़ाई गई निगरानी

वाराणसी :चोरी का आरोपी किशोर हुआ फरार, संप्रेक्षण गृह में 12 अक्टूबर से था बंद; बढ़ाई गई निगरानी

Newspoint24/newsdesk/एजेंसी इनपुट के साथ

वाराणसी । रामनगर स्थित संप्रेक्षण गृह के केबल का सहारा लेकर चोरी के आरोप में बंद एक किशोर भाग निकला। घटना की जानकारी मिलते ही संप्रेक्षण गृह के कर्मचारियों ने उसकी तलाश शुरू की, लेकिन सफलात नहीं मिली। गृह अधीक्षक दीपचंद मौर्या ने किशोर के खिलाफ शनिवार को रामनगर थाने में मुकदमा दर्ज कराया है। घटना के बाद संप्रेक्षण गृह की निगरानी बढ़ा दी गई है। बता दें कि इस समय रामनगर स्थित संप्रेक्षण गृह में 93 किशोर बंद हैं।

छत से नीचे कूद कर भागा

रामनगर स्थित संप्रेक्षण गृह के सुरक्षा कर्मी और कर्मचारी गुरुवार की रात एक कमरे में बैठे हुए थे। बताया जाता है कि उसी दौरान एक किशोर हॉल से होते हुए बिजली के केबल तक पहुंचा। इसके बाद केबल पकड़ कर छत पर चढ़ा और फिर नीचे कूद गया।

संप्रेक्षण गृह से फरार हुए किशोर के खिलाफ रामनगर थाने में मुकदमा दर्ज कराया गया है। - फाइल फोटो

(संप्रेक्षण गृह से फरार हुए किशोर के खिलाफ रामनगर थाने में मुकदमा दर्ज कराया गया है। - फाइल फोटो)

भोजन की व्यवस्था में लगे कर्मचारियों ने किशोर को छत से कूदते हुए देखा तो शोर मचाया। आनन-फानन सुरक्षा कर्मियों ने उसकी तलाश शुरू की लेकिन अंधेरा होने की वजह से सफलता नहीं मिली। शुक्रवार को भी उसकी खोजबीन की गई, लेकिन कहीं पता नहीं लगा। तब जाकर पुलिस को सूचना दी गई।

12 अक्टूबर को आया था जिला जेल से

संप्रेक्षण गृह के अधीक्षक दीपचंद मौर्य के अनुसार, 17 वर्षीय किशोर सारनाथ क्षेत्र के बरईपुर में किराये के मकान में रह कर ऑटो चलाता था। मूल रूप से वह आजमगढ़ जिले के कंधरापुर थाना के सैदा गांव का रहने वाला है। वह चोरी के आरोप में पकड़ा गया था।

उसके खिलाफ चोरी के आरोप में 5 मुकदमे दर्ज हैं। बीती 12 अक्टूबर को उसे जिला जेल से संप्रेक्षण गृह में दाखिल किया गया था। संप्रेक्षण गृह के सुरक्षा कर्मियों के साथ ही रामनगर थाने की पुलिस भी किशोर की तलाश शुरू कर दी है।

यह भी पढ़ें : 7 साल पुरानी प्रतिकार यात्रा मामले पर बढ़ी स्वामी अविमुक्तेश्वरानंद की मुश्किलें, अग्रिम जमानत अर्जी हुई खारिज

Share this story