आयुष्मान कार्ड बनाने के लिए 15 सितंबर से लेकर 30 सितंबर तक प्रदेश में विशेष अभियान

Special campaign in the state from 15th September to 30th September to make Ayushman card

Newspoint24/newsdesk/एजेंसी इनपुट के साथ
 
लखनऊ। आयुष्मान भारत-प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के लाभार्थियों के निशुल्क आयुष्मान कार्ड बनाने के लिए 15 सितंबर से लेकर 30 सितंबर तक प्रदेश में विशेष अभियान चलाया जाएगा। इस आयुष्मान पखवाड़े में कार्ड बनाने के लिए सार्वजनिक स्थलों पर कैंप लगाए जाएंगे।

आशा वर्कर द्वारा चिन्हित किए गए परिवारों को कैंप की जानकारी दी जाएगी। यहां वह अपने आधार कार्ड, राशन कार्ड या परिवार रजिस्टर की फोटो कापी लाकर आयुष्मान कार्ड बनवा सकेंगे। प्रदेश में कुल 8.35 करोड़ लाभार्थियों में से 2.06 करोड़ लाभार्थियों के ही कार्ड बने हैं। 23 सितंबर 2022 को इस योजना का लागू हुए चार वर्ष पूरे हो जाएंगे।


मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्रा की ओर से निर्देश दिए गए हैं कि सभी जिलों में मुख्य विकास अधिकारी (सीडीओ) की अध्यक्षता में एक टास्क फोर्स का गठन किया जाए। इस टास्क फोर्स में पंचायती राज विभाग व ग्राम्य विकास आदि विभागों को अफसरों को नोडल अधिकारी के तौर पर शामिल किया जाए। यह टास्क फोर्स कार्ड बनाए जाने की प्रगति पर नजर रखेगी।

सीएम की प्राथम‍िकता 
 
उन्होंने कहा कि योगी सरकार की प्राथमिकताओं में शामिल स्वस्थ प्रदेश-खुशहाल प्रदेश के तहत शत प्रतिशत लाभार्थियों के कार्ड बनाए जाएंगे। अगर किसी कैंप पर 50 से अधिक लाभार्थी आते हैं तो कैंप की अवधि बढ़ाई जाएगी या फिर एक से अधिक स्थलों पर कैंप लगाया जाएगा। इसका व्यापक प्रचार-प्रसार भी किया जाएगा।

आयुष्मान कार्ड से होगा यह लाभ 
 
मालूम हो कि इस योजना में एक परिवार को प्रतिवर्ष पांच लाख रुपये तक के मुफ्त उपचार की सुविधा दी जाती है। इसमें वर्ष 2011 की सामाजिक-आर्थिक गणना के आधार पर चिन्हित 1.26 करोड़ गरीब परिवारों के 6.30 करोड़ लाभार्थी, 40 लाख अंत्योदय परिवारों के 1.30 करोड़ लाभार्थियों के साथ-साथ 75 लाख राज्य कर्मचारियों, पेंशनर व उनके स्वजनों को भी इस योजना से ही लाभ दिया जा रहा है।

 
 यह भी पढ़ें :  कानपुर : 22 हजार के चालान पर ऑटो चालक को लगा सदमा, उठाया खौफनाक कदम, जानें क्या है पूरा मामला

Share this story