क्राइम पेट्रोल देखकर पुराने अपराधों को करना चाहता था खत्म, खुद को बचाने के लिए रचा खेल, ऐसे हुआ राज का खुलासा

क्राइम पेट्रोल देखकर पुराने अपराधों को करना चाहता था खत्म, खुद को बचाने के लिए रचा खेल, ऐसे हुआ राज का खुलासा

Newspoint24/newsdesk/एजेंसी इनपुट के साथ

प्रयागराज। उत्तर प्रदेश की संगमनगरी प्रयागराज में पुलिस ने एनकाउंटर में एक अपराधी को गिरफ्तार किया है। हैरान करने वाली बात है कि वह टीवी सीरियल क्राइम पेट्रोल से आइडिया लेकर अपने पुराने अपराधों को खत्म करना चाहता था।

ऐसा करने के लिए उसने एक शख्स की हत्या की थी, जो उसी के कद-काठी का था। काफी लंबे समय से पुलिस इस अपराधी की तलाश कर रही थी। पुलिस का कहना है कि आरोपी के खिलाफ 24 अपराधिक मामले दर्ज हैं, जिसमें हत्या, लूट और हत्या की कोशिश जैसे गंभीर अपराध शामिल हैं। 

कानूनी प्रक्रिया की वजह से कर्ज में डूब चुका था आरोपी

दरअसल शहर की करछना पुलिस ने सोमवार रात मुठभेड़ के दौरान फिरोज को गिरफ्तार किया था। पुलिस का कहना है कि इस अपराधी के कानूनी प्रक्रिया में काफी पैसे भी खर्च हो चुके थे।

इस वजह से वह भारी कर्ज में डूब गया था इसलिए उसने नया तरीका अपनाया। टीवी में क्राइम पेट्रोल देखकर अपनी कर्ज और सभी पुराने अपराधों को खत्म करने को लेकर प्लानिंग करने लगा। इसके लिए आरोपी फिरोज ने अपनी कद-काठी वाले सूरज गुप्ता के शख्स को चुना और उसकी हत्या कर दी।

अक्टूबर के महीने में पुलिस को मिली थी सिर कटी लाश

दरअसल बीते 17 अक्टूबर 2022 को करछना इलाके में मरदापुर में अनमोल ढाबा के पास पुलिस को एक सिर कटी लाश मिली थी। उसकी पहचना बिहार में बक्सर जिले के पीपी रोड के निवासी सूरज गुप्ता के तौर पर हुई थी।

शुरुआती जांच में तो पुलिस भी पूरी तरह से उलझ गई क्योंकि शव के पास एक पर्स मिला था। जिसमें ड्राइविंग लाइसेंस करछना के पचदेवरा गांव निवासी फिरोज अहमद का था।

इसी वजह से पुलिस ने मामले की गहराई में जांच करना शुरू कर दिया तो पता चला कि यह सिर कटी लाश सूरज गुप्ता की है और फिरोज जिंदा है। उसके बाद पुलिस ने फिरोज की पत्नी से पूछताछ की तो भी कोई पता नहीं लग सका।

पुलिस ने घेराबंदी कर आरोपी फिरोज पर की जवाबी फायरिंग

सात नवंबर को पुलिस और एसओजी की संयुक्त टीम को गुप्त सूचना मिली कि मर्दापुर गांव के अनमोल ढाबे के पास फिरोज अहमद स्कूटी से कहीं जा रहा है। फिर पुलिस ने एसआर डिग्री कॉलेज के पास घेराबंदी की और फिरोज को अपनी ओर आता देख रोकने का प्रयास किया लेकिन आरोपी फिरोज फायरिंग करते हुए भागने लगा।

पुलिस ने जवाबी कार्रवाई करते हुए फायरिंग की और उसके पैर में गोली लगी और वह जमीन पर गिर गया। पुलिस ने आरोपी की स्कूटी और तमंचा जब्त कर अस्पताल में भर्ती कराया है।

इस मामले को लेकर एसपी सौरभ दीक्षित का कहना है कि अपराधी फिरोज के पैर में गोली लगी है। उन्होंने आगे बताया कि उसके पास से एक बिना नंबर प्लेट की स्कूटी, 312 बोर का अवैध असलहा, दो जिंदा कारतूस और एक खोखा बरामद हुआ है।

Share this story