सिलबट्टे से किया पति का मर्डर, फिर उसी से चटनी पीसकर बच्चों को खिलाया...पढ़ें महिला क्यों किया सुहाग का खून

sda

Newspoint24/newsdesk/एजेंसी इनपुट के साथ  

फिरोजाबाद। उत्तर थाना क्षेत्र के मोहल्ला इंद्रपुर में किराए के मकान में रहने वाली एक महिला ने 30 दिसंबर को मैनपुरी के निवासी व्यापारी विजय गोस्वामी की हत्या कर दी। महिला ने सोते समय उसके सिर पर पत्थर के बट्टे से वार किया।

इसके बाद शव को घसीटते हुए उसने नाले में फेंक दिया। पुलिस ने मंगलवार को इस घटना का पर्दाफाश करते हुए महिला को जेल भेज दिया। 

हत्या के बाद महिला ने शव को नाली में फेंका 

मैनपुरी के भरतवाल रहने वाले 48 वर्षीय विजय गोस्वामी अपनी पत्नी मंजू और बेटी रिंकी और ऋतु के साथ इंद्रपुरी के पार्षद सुबोध कुमार के मकान में किराए पर रहते थे।तकरीबन तीन साल से सभी यहीं रहते थे।

विजय साइकिल से फेरी लगाकर शाल बेचते थे। मंजू ने अपने पति की हत्या शुक्रवार की रात तकरीबन दो बजे की थी और शव को नाली में फेंक दिया था। इसके बाद मामले में सीओ सिटी हरिमोहन सिंह, इंस्पेक्टर उत्तम नरेंद्र शर्मा फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे। मंजू ने पुलिस को बताया कि विजय ने रात में दोस्तों के साथ नीचे के कमरे में शराब पी थी। इसके बाद उसके दोस्त चले गए थे।

पुलिस को पड़ताल में पत्नी के कई बयान गलत मिले। इसके बाद कड़ाई से पूछताछ में महिला ने पति की हत्या की बात को कबूल कर लिया। पुलिस ने वारदात में शामिल बट्टा और खून से सनी मिक्सी को भी बरामद कर लिया है। 

बट्टे से पीटकर की हत्या, बच्चों को खिलाई उसी पर पीसी चटनी 

कड़ाई से पूछताछ में महिला ने बताया कि उसका पति रोजाना शराब पीता था और उसके व बेटियों के साथ मारपीट करता था। वह कमाई के सारे पैसे शराब और जुए में उड़ाता था और इसी के चलते परिवार की आर्थिक स्थिति खराब हो गई थी।

तकरीबन तीन माह से उसने मकान का किराया तक नहीं दिया था। महिला ने बताया कि 30 दिसंबर की रात जब विजय शराब पीकर सो गए तो उसने सिर पर बट्टे से वार कर हत्या कर दी। इसके बाद शव को घसीटकर नाले में फेंक दिया।

घटना को अंजाम देने के बाद शोर मचाया जिससे दोस्तों पर शक हो जाए। महिला ने पति की हत्या के बाद बट्टे का खून साफ करने के लिए उससे चटनी बनाई और बच्चों को वही चटनी सुबह खिलाई भी।

इसके बाद सुबह बच्चों को हत्या की वारदात के बारे में उसने जानकारी भी दी। महिला ने बताया कि उसकी पहली शादी मैनपुरी के अशोक कुमार से हुई थी। 2004 में अशोक और मंजू के बीच अलगाव के बाद उसने विजय से शादी की थी। 

Share this story