माफिया अतीक की पत्नी ने थामा बसपा का दामन, जल्द करेंगी मायावती से मुलाकात

df

Newspoint24/newsdesk/एजेंसी इनपुट के साथ  

प्रयागराज। अहमदाबाद की जेल में बंद माफिया और पूर्व सांसद अतीक अहमद की पत्नी शाइस्ता परवीन ने बसपा की सदस्यता ग्रहण की। गुरुवार को मुख्य अतिथि पूर्व सांसद घनश्याम चंद्र खरवार ने उन्हें बहुजन समाज पार्टी की सदस्यता दिलाई। 

निकाय चुनाव से पहले बसपा तैयार करना चाहती है समीकरण

शाइस्ता परवीन ने अलोपीबाग स्थित सरदार सेवा संस्थान में आयोजित एक सम्मेलन के दौरान बसपा की सदस्यता ली। उन्होंने बताया कि वह जल्द ही बीएसपी सुप्रीम से मिलने के लिए लखनऊ भी जाएंगी।

आपको बता दें कि बसपा लोकसभा और विधानसभा चुनाव के में अपने खराब प्रदर्शन के बाद निकाय चुनाव से पहले अलग समीकरण तैयार करना चाहती है। निकाय चुनाव में बसपा दलित-मुस्लिम समीकरण पर निशाना साध रही है।

इसी के चलते पहले इमरान की पत्नी को सहारनपुर से उम्मीदवार बनाया गया और अब शाइस्ता परवीन को टिकट थमाकर मुस्लिम वोटबैंक पर निशाना साधा जा रहा है।

AIMIM से तोड़ा नाता, अभी तक नहीं हुई मायावती से मुलाकात

ज्ञात हो कि इससे पहले अतीक की पत्नी शाइस्ता ने वर्ष 2022 में विधानसभा चुनाव से पहले एआईएमआईएम का दामन थामा था। राष्ट्रीय अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी की मौजूदगी में उन्हें पार्टी की सदस्यता दिलाई गई थी।

इसके बाद शाइस्ता के शहर पश्चिमी से चुनाव लड़ने की हवा भी उड़ी लेकिन पार्टी ने उन्हें प्रत्याशी नहीं घोषित किया। इसी के चलते शाइस्ता चुनावी मैदान में भी नहीं कूदीं।

बसपा ज्वाइन करने से तकरीबन एक माह पहले ही शाइस्ता ने मायावती से मुलाकात कर चुनाव लड़ने का ऐलान कर दिया था। हालांकि अभी तक उनकी मुलाकात मायावती से नहीं हो सकी है।

सीएम योगी की तारीफ कर चुके अतीक और शाइस्ता 

ज्ञात हो कि अतीक अहमद 20 अक्टूबर को लखनऊ में पेशी पर आए थे। जहां उन्होंने कहा था कि सीएम योगी अदित्यनाथ बहादुर और ईमानदार सीएम हैं।

इसके कुछ दिनों बाद ही अतीक की पत्नी शाइस्ता ने भी प्रयागराज में मीडिया से बातचीत की थी। उस दौरान शाइस्ता ने भी सीएम योगी की तारीफ की। इसी प्रेसवार्ता में उन्होंने मेयर पद पर चुनाव लड़ने का ऐलान किया था। 

Share this story