छठ व्रतियों ने अस्ताचलगामी सूर्य को अर्घ्य दिया: सीएम योगी बोले 'सभी व्रती माता-बहनों पर माई के किरपा बनल रहे 

छठ व्रतियों ने अस्ताचलगामी सूर्य को अर्घ्य दिया: सीएम योगी बोले 'सभी व्रती माता-बहनों पर माई के किरपा बनल रहे।'

Newspoint24/newsdesk/एजेंसी इनपुट के साथ
 

लखनऊ। छठ महापर्व का आज तीसरा दिन है। ऐसे में यूपी के गंगा घाटों पर उत्सव सा नजारा है। शाम को लाेग ढोल-नगाड़ों के साथ नाचते और गाते हुए घाटों पर पहुंचे। हजारों की संख्या में महिलाएं घाटों पर पूजा-अर्चना कर रही हैं।

छठ व्रतियों ने बहंगी छठ मैया के जाए...गाकर अस्ताचलगामी यानी डूबते हुए सूरज को अर्घ्य दिया। छठ गीतों से माहौल में चार चांद लग गए हैं। लखनऊ के मुख्य पूजा स्थल लक्ष्मण मेला मैदान में सीएम योगी आदित्यनाथ और डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक भी पहुंचे हैं। सीएम योगी ने कहा, 'सभी व्रती माता-बहनों पर माई के किरपा बनल रहे।'

'पर्व और त्योहार का महत्व ही सामूहिकता का दर्शन'
सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि छठ लोक आस्था का पर्व है। पूरा समाज इससे जुड़ता है। पर्व और त्योहार का महत्व ही सामूहिकता का दर्शन है। छठ ही ऐसा पर्व है जब सब एक जुट हो करके प्रकृति, स्वच्छता और लोक आस्था के प्रति समर्पित भाव के साथ काम करते हैं। यह पर्व आदर्श का उदाहरण है, जो चार चरणों में मनाया जाता है। इस पर्व में अंत: और बाह्य शुद्धि पर पूरी तरह ध्यान दिया जाता है।

सीएम ने कहा कि जल से अर्घ दिया जाता है, ये बगैर शुद्धि के नहीं होता। नदी की स्वच्छता का अभियान सामूहिकता के साथ चलाया गया। इसी का परिणाम है कि यहां आज गोमती नदी शुद्ध दिखाई पड़ रही है। भोजपुरी समाज देश दुनिया में जहां भी है, वह वहां छठ पर्व मना रहा है। नहाय खाय से शुरू होकर खरना फिर अस्तांचल सूर्य के साथ कल उगते सूर्य की उपासना के बाद सम्पन्न होने वाला यह पर्व सामाजिक समरसता का भी उदाहरण प्रस्तुत करता है।

एक फिर चलाना होगा स्वच्छता अभियान
सीएम योगी ने कहा कि प्रकृति के देवता सूर्य हम सबको एक आर्शीवाद देते हैं, बिना सूर्य के दुनिया में कुछ दृष्टिगोचर नहीं होता है। ऐसे में सभी को रोजाना सूर्य भगवान को जल देना चाहिए। आस्था का सम्मान सरकार भी करना चाहती है। सीएम ने कहा कि घाटों पर पक्की सुशोभिता बनाने से बचना चाहिए, इसे अस्थाई बनाना चाहिए ताकि इसका सम्मान बरकरार रहे। प्रदेश में जहां भी कार्यक्रम हो रहे हैं, इसके लिए प्रशासन पूरी तरह से मुस्तैद है।

इसके अलावा हमे भी व्यवस्था को लेकर अपनी जिम्मेदारी निभानी होगी। कार्यक्रम के समापन के बाद एकजुट होकर गंदगी को हटाना होगा। फिर से स्वच्छता अभियान चलाना होगा, तभी हमको पुण्य प्राप्त होगा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अंत में भोजपुरी भाषा में छठी मइया के कृपा आप सबपर बनल रहे, सभी व्रती माता-बहनों पर माई के किरपा बनल रहे के साथ शुभकामनाएं दीं।

भोजपुरी समाज के राष्ट्रीय अध्यक्ष सीएम को किया सम्मानित
लोक आस्था के पर्व छठ पूजा पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ रविवार शाम को लक्ष्मण मेला मैदान पहुंचे। जहां वह भोजपुरी समाज के साथ छठ पूजा में शामिल हुए। इस दौरान अखिल भारतीय भोजपुरी समाज के राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रभूनाथ राय ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पुष्पगुच्छ, अंगवस्त्र और स्मृति चिह्न देकर सम्मानित किया। कार्यक्रम में डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक, मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्रा, प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री एवं गृह संजय प्रसाद और गोविंद शुक्ला भी मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें : CM योगी ग्रेटर नोएडा को देंगे करोड़ों की सौगात, इस परियोजना के जरिए घर-घर पहुंचेगा गंगाजल
 

Share this story