बरेली: 6 माह तक करते रहे फर्जी दस्तावेजों से पढ़ाई, किए गए निलंबित

बरेली: 6 माह तक करते रहे फर्जी दस्तावेजों से पढ़ाई, किए गए निलंबित

Newspoint24/newsdesk/एजेंसी इनपुट के साथ

बरेली। आयुष विभाग में प्रवेश प्रक्रिया को लेकर हुए फर्जीवाड़े के तार प्रदेश के कई जिलों तक फैले हैं। जांच में मंडल के बरेली और पीलीभीत में भी छात्रों के दस्तावेज जांच में फर्जी पाए गए हैं।

जांच रिपोर्ट के अनुसार बरेली के एसआरएम राजकीय आयुर्वेदिक मेडिकल कॉलेज में चार छात्रों के दस्तावेज फर्जी मिलने पर उन्हें निलंबित कर दिया गया है। हालांकि, इनमें से एक छात्र ने प्रवेश नहीं लिया था।

कॉलेज के प्रभारी प्राचार्य डा. देवकी नंदन शर्मा ने बताया कि वर्ष 2021 बैच के लिए प्रवेश प्रक्रिया आरंभ की गई थी लेकिन कोविड के चलते काउंसिलिंग प्रक्रिया निरस्त हो गई थी, मगर इस बैच के लिए वर्ष 2022 के फरवरी-मार्च में काउंसिलिंग प्रक्रिया के बाद 72 छात्रों को प्रवेश दिया गया था।

हाल ही में शासन की रिपोर्ट के अनुसार जिन चार छात्रों को निलंबित किया गया है, इनमें से तीन छात्र बीना, फरियाद और रुमा शामिल हैं। जो कि तीनों ही मुरादाबाद जिले के निवासी हैं।

एक अन्य छात्र ने प्रवेश नहीं लिया था, जिसके चलते उससे जुड़ी कोई जानकारी प्रबंधन के पास नहीं है। उस दौरान 72 छात्रों ने प्रवेश लिया था, जिसमें बीते दिनों 13 छात्रों ने एमबीबीएस की तैयारी का तर्क देकर एडमिशन निरस्त करा दिया। वहीं अन्य 56 छात्रों के दस्तावेजों का सत्यापन कर रिपोर्ट शासन को भेज दी है।

Share this story