गणेश विसर्जन में 8 की मौत : संत कबीर नगर में 4 की जान गई, ललितपुर और उन्नाव में 2-2 डूबे

8 killed in Ganesh immersion: 4 died in Sant Kabir Nagar, 2 each drowned in Lalitpur and Unnao

संत कबीर नगर के खलीलाबाद शहर के मगहर चौकी क्षेत्र में शुक्रवार दोपहर बाद करीब 4 बजे बड़ा हादसा हो गया। यहां के बांसगांव में वीरेंद्र मगहर रहता है। उसकी पत्नी संजू मोहम्मदपुर कटार में अपनी बहन के घर विसर्जन में शामिल हाेने आई थी।

आमी नदी उनके घर से 2 किलोमीटर दूर दक्षिण में बहती है। संजू, उसका 10 साल का बेटा अजीत, संजू की बहन की 3 बेटियां रूबी, दीपाली, पप्पूइया आमी नदी में गणपति का विसर्जन करने गई थीं। उनके साथ गांव के दूसरे लोग भी थे।

Newspoint24/newsdesk/एजेंसी इनपुट के साथ

लखनऊ। यूपी में गणपति विसर्जन के दौरान अलग-अलग जिलों में 8 लोग डूब गए। संत कबीर नगर में 4 बच्चे डूब गए। चारों आपस में भाई-बहन थे। सभी के शव निकाल लिए गए हैं। वहीं​​​​​ ललितपुर और उन्नाव में 2-2 लोगों की विसर्जन के दौरान डूबने से मौत हो गई है।

सबसे बड़ा संत कबीर नगर की आमी नदी में हुआ
संत कबीर नगर के खलीलाबाद शहर के मगहर चौकी क्षेत्र में शुक्रवार दोपहर बाद करीब 4 बजे बड़ा हादसा हो गया। यहां के बांसगांव में वीरेंद्र मगहर रहता है। उसकी पत्नी संजू मोहम्मदपुर कटार में अपनी बहन के घर विसर्जन में शामिल हाेने आई थी।

आमी नदी उनके घर से 2 किलोमीटर दूर दक्षिण में बहती है। संजू, उसका 10 साल का बेटा अजीत, संजू की बहन की 3 बेटियां रूबी, दीपाली, पप्पूइया आमी नदी में गणपति का विसर्जन करने गई थीं। उनके साथ गांव के दूसरे लोग भी थे।

आमी नदी में डूबे बच्चों की तलाश करते गोताखोर।

आमी नदी में डूबे बच्चों की तलाश करते गोताखोर।

एक-दूसरे का हाथ पकड़कर नदी में उतरे थे बच्चे
गणपति विसर्जन के लिए संजू नदी में उतर गई। इस पर पीछे से अजीत और तीनों बच्चियां भी एक-दूसरे का हाथ पकड़कर नदी में उतर गईं। अचानक एक बच्चे का पैर गहरे पानी में चला गया। उसे बचाने के चक्कर में एक-एक कर चारों बच्चे नदी में डूबते गए। संजू ने यह देखकर शोर मचाया, लेकिन तब तक चारों गहरे पानी में चले गए।

हादसे की सूचना पर पुलिस और उपजिलाधिकारी स्थानीय गोताखोर के साथ मौके पर पहुंचे। गोताखोरों ने नदी में तलाश शुरू की। करीब एक घंटे बाद उन्होंने चारों बच्चों के शव बरामद कर लिए। पुलिस ने चारों के शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिए हैं।

आमी नदी में चारों बच्चों के शव बरामद हो गए हैं।

आमी नदी में चारों बच्चों के शव बरामद हो गए हैं।

दूसरा हादसा ललितपुर में हुआ, दोस्त को बचाने में युवक डूबा
ललितपुर में भी गणेश प्रतिमा के विसर्जन के दौरान दो दोस्त तालाब में डूब गए। हादसा ग्राम पटौरा कला में शुक्रवार दोपहर हुआ। गांव के तालाब में गणेश प्रतिमा का विसर्जन किया जा रहा था। गांव का पीयूष अपने पड़ोसी दोस्त इसरार (18) उर्फ छोटू के साथ तालाब में विसर्जन करने गया था। पीयूष तालाब में डूबने लगा, तो उसे बचाने को इसरार भी कूद गया। इसके बाद दोनों डूब गए।

ललितपुर के तालाब में दोनों के शवों को लोगों ने निकाल लिया।

ललितपुर के तालाब में दोनों के शवों को लोगों ने निकाल लिया।

ग्रामीणों ने निकाला, तब तक थम चुकी थी सांसें
दोनों को डूबते देखकर आसपास के लोग तालाब में कूद गए। उन्होंने दोनों को तालाब से बाहर निकाला। मगर, जब तक उनकी मौत हो चुकी थी। हालांकि परिवार वाले दोनों को जिला अस्पताल ले गए। मगर, वहां डॉक्टरों ने दोनों को मृत घोषित कर दिया।

ललितपुर में डूबे युवकों के परिवार में मातम फैल गया।

ललितपुर में डूबे युवकों के परिवार में मातम फैल गया।

तीसरा हादसा उन्राव में गंगा तट पर हुआ, तीन युवक डूबे​​​​​​, दो की मौत
तीसरा हादसा उन्राव में गंगा तट पर गणेश विसर्जन के दौरान हुआ। यहां तीन युवक डूब गए। दो युवकों के शव निकाले गए। जबकि एक युवक को गंभीर हालत में कानपुर के हैलट अस्पताल भेजा गया है। वहां उसकी हालत गंभीर बानी है।

हादसा सफीपुर के माखी थाना क्षेत्र में हुआ। यहां एक ट्राली में बैठ कर 50 से अधिक लोग मूर्ति विसर्जन करने गंगा तट पर पहुंचे थे। मूर्ति विसर्जन के दौरान लवलेश, प्रशांत और विशाल गंगा में गहरे पानी में चले गए।

उन्नाव के सफीपुर में गंगा नदी में तीनों युवकों को निकाला गया। जिनमें दो की मौत हो गई।

उन्नाव के सफीपुर में गंगा नदी में तीनों युवकों को निकाला गया। जिनमें दो की मौत हो गई।

गोताखोरों ने आधे घंटे में निकाला
घाट पर मौजूद गोताखोर गंगा में कूदे और करीब आधे घंटे बाद तीनों युवकों को बाहर निकाला। इसमें लवलेश और प्रशांत की डूबने से मौत हो चुकी थी। विशाल बेहोशी की हालत में था। विशाल को इलाज के लिए पुलिस ने कानपुर के हैलट अस्पताल भेजा है।

उन्नाव के सफीपुर में गंगा से निकाले गए युवक को अस्पताल लेकर जाते लोग।

उन्नाव के सफीपुर में गंगा से निकाले गए युवक को अस्पताल लेकर जाते लोग।

अलीगढ़ में प्रतिमा विसर्जन में गए 3 युवक डूबे : गोताखोरों ने 2 को बचाया, 1 की तलाश जारी
अलीगढ़ में प्रतिमा विसर्जन करने गए 3 युवक गंगा में डूब गए। हादसा विसर्जन के बाद स्नान करने के दौरान हुआ। 2 युवकों को गोताखोरों ने बचा लिया। एक युवक की तलाश जारी है।

अतरौली के मोहल्ला टेड़ानीम से शुक्रवार को लोग गणेश प्रतिमा का विसर्जन करने के लिए नरौरा गंगा घाट पर पहुंचे। करीब 70 लोग घाट पर मौजूद थे। विसर्जन के बाद सभी गंगा में स्नान करने लगे। इस दौरान उमेश (35), श्यामू (25) और संजय उर्फ गोलू (18) गहरे पानी में डूबने लगे। शोर मचने पर गोताखोरों ने श्यामू और संजय को बचा लिया, जबकि उमेश की तलाश जारी है।

गंगा में डूबे उमेश का अभी तक कोई पता नहीं चल पाया है।

गंगा में डूबे उमेश का अभी तक कोई पता नहीं चल पाया है।

Share this story