कंचनजंघा एक्सप्रेस दुर्घटना: त्रिपुरा सरकार ने भेजी विशेष टीम

कंचनजंघा एक्सप्रेस दुर्घटना: त्रिपुरा सरकार ने भेजी विशेष टीम

Newspoint24/newsdesk/एजेंसी इनपुट के साथ

अगरतला। त्रिपुरा सरकार ने त्रिपुरा के लोगों की सहायता के लिए पश्चिम बंगाल स्थित दुर्घटनास्थल पर अपनी दो सदस्यीय विशेष टीम भेजी है, जहां अगरतला-सियालदह कंचनजंघा एक्सप्रेस आज सुबह दुर्घटनाग्रस्त हुई थी।

दुर्घटना में राज्य के मारे गए व्यक्ति की पहचान करके उसे अनुग्रह राशि दी जाएगी। ज्ञात हो कि पूर्वोत्तर सीमा रेलवे (पूसीरे) के अनुसार अब तक आठ यात्रियों की मौत हो चुकी है, जबकि करीब 25 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए हैं।

उल्लेखनीय है कि अगरतला-सियालदह कंचनजंघा एक्सप्रेस को न्यू जलपाईगुड़ी के पास एक मालगाड़ी ने पीछे से टक्कर मार दी। खबर लिखे जाने तक मृतकों की पहचान नहीं हो पाई है।

यहां एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए त्रिपुरा के मुख्यमंत्री के सचिव पीके चक्रवर्ती ने कहा कि 16 जून की सुबह 8.15 बजे कंचनजंघा एक्सप्रेस यात्रियों को लेकर अगरतला रेलवे स्टेशन से सियालदह के लिए रवाना हुई थी।

उन्होंने बताया कि ट्रेन में कुल 23 कोच थे, जिनमें 21 पैसेंजर कोच और 2 वीपी पार्सल कोच शामिल थे। उन्होंने कहा कि घटना के तुरंत बाद त्रिपुरा स्टेट इमरजेंसी ऑपरेशन सेंटर (एसईओसी) को हेल्पलाइन नंबरों के साथ सक्रिय कर दिया गया और अद्यतन जानकारी के लिए रेलवे अधिकारियों के साथ समन्वय किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि त्रिपुरा के लोगों को हर तरह की सहायता प्रदान करने के लिए त्रिपुरा भवन कोलकाता से एक विशेष टीम घटनास्थल पर भेजी गई है। टीम आज शाम तक घटनास्थल पर पहुंच जाएगी। उन्होंने बताया कि त्रिपुरा के मुख्यमंत्री प्रो. डॉ. माणिक साहा के निर्देश पर यह निर्णय लिया गया कि सभी घायलों के ईलाज का खर्च राज्य सरकार उठाएगी।

साथ ही कहा कि त्रिपुरा के किसी व्यक्ति की होनेवाली दुर्भाग्यपूर्ण मृत्यु होने की स्थिति में राज्य सरकार पीड़ितों के परिजनों को 2 लाख रुपये की अनुग्रह राशि देगी। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार सुबह से ही स्थिति पर लगातार नजर रख रही है।
 

Share this story