नीट परीक्षा में अनियमितता से लाखों छात्रों का भविष्य दांव पर- डोटासरा

नीट परीक्षा में अनियमितता से लाखों छात्रों का भविष्य दांव पर- डोटासरा

Newspoint24/newsdesk/एजेंसी इनपुट के साथ

जयपुर। केन्द्र सरकार की नेशनल टेस्टिंग एजेन्सी द्वारा नीट यूजी-2024 परीक्षा करवाने में कथित अनियमितता के विरोध में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गोविन्द सिंह डोटासरा के नेतृत्व में शुक्रवार प्रातः जयपुर के कलेक्ट्री सर्किल पर कांग्रेसजनों ने धरना देकर विरोध-प्रदर्शन किया।

इस अवसर पर डोटासरा ने कहा कि राजस्थान में जब पांच साल कांग्रेस की सरकार थी तो भारतीय जनता पार्टी के तमाम नेता युवाओं के भविष्य को लेकर चिंता व्यक्त करते थे।

उन्होंने कहा कि आज भारतीय जनता पार्टी के उन सभी नेताओं को वास्तविक चेहरा उजागर हो गया है क्योंकि इन भाजपा नेताओं को उस वक्त भी युवाओं के भविष्य की चिंता नहीं थी केवल माहौल खराब कर सरकार में आना चाहते थे।

उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा ने भ्रमित कर सत्ता तो हथिया ली किन्तु आज उनसे यह प्रश्न पूरा देश पूछ रहा है कि 24 लाख बच्चे जिनमें से 1 लाख 75 हजार राजस्थान के है, जिन्होंने अपने परिजनों के साथ डॉक्टर बनने का सपना देखा है और इस सपने को साकार करने के लिए दिन-रात पढ़ाई और मेहनत की है, माता-पिता ने कोचिंग के लिए बड़ी राशि खर्च की तथा सर्वस्व लगाकर भविष्य की आशाओं के साथ जब बच्चों ने परीक्षा दी तो हुआ यह कि देश की नीट की परीक्षा का पेपर आउट हो गया। उन्होंने कहा कि प्रतिदिन पेपर आउट होने के नए-नए खुलासे हो रहे है तथा अनेक राज्यों से मीडिया के माध्यम से वहां पेपर आउट होने की जानकारी सामने आ रही है।

उन्होंने कहा कि बिहार में डबल इंजन की भाजपा सरकार के मंत्री ही कह रहे है कि बिहार में पेपर आउट हुआ है और पेपर आउट करने वाले सरगना की जानकारी मिल गई है, किन्तु देश के प्रधानमंत्री जो बच्चों से परीक्षा पर चर्चा करते थे वे अब एक शब्द नहीं बोल रहे है।

उन्होंने कहा कि देश के शिक्षा मंत्री भी इस विषय पर देश को सच्चाई नहीं बता रहे है बल्कि प्रतिदिन गुमराह करने वाली बातें कह रहे है। उन्होंने कहा कि शिक्षा मंत्री कभी तो कहते है कि गड़बड़ी करने वालों की जांच की जाएगी, कभी कह रहे है कि गड़बड़ी हुई है लेकिन पेपर आउट नहीं हुआ।

उन्होंने कहा कि उच्चतम न्यायालय ने कहा कि यदि एक भी डॉक्टर फर्जी तरीके से बन गया तो इस तरीके से बना डॉक्टर पता नहीं कितने लोगों के जीवन को खराब कर देगा।

उन्होंने कहा कि उच्चतम न्यायालय की कड़ी टिप्पणी के बावजूद भाजपा की केन्द्र सरकार के कान पर जू तक नहीं रेंग रही है कि उच्चतम न्यायालय द्वारा अपनी मंशा जाहिर की गई है कि यदि पेपर लीक होने के कारण निरस्त किया गया तो इसकी काउन्सलिंग करवाने की क्या आवश्यकता है।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस शासन में भाजपा के दिग्गज नेता जोर-शोर से युवाओं एवं छात्रों की बात करते थे किन्तु आज नीट परीक्षा का पेपर लीक होने से लाखों छात्रों का भविष्य दांव पर है तो यह भाजपा के नेता कहीं नजर नहीं आ रहे है।

उन्होंने कहा कि यूजीसी-नेट का पेपर लीक हुआ तो एक भी भाजपा का नेता नहीं बोला इसी प्रकार नीट का पेपर आउट हुआ तो भी प्रदेश के सभी भाजपा नेता चुप्पी साधकर बैठे है क्योंकि कांग्रेस शासन में इन्हें झूठे तथ्यों के आधार पर सत्ता में आने के लिए हल्ला मचाना था।

उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार में बैठे नेता नूराकुश्ती में व्यस्त है और जनता के कार्यों की ओर उनका ध्यान नहीं है। उन्होंने कहा कि आज देशभर के छात्र अपने भविष्य को लेकर आशंकित है और केन्द्र सरकार की नेशनल टेस्टिंग एजेन्सी द्वारा करवायी गयी नीट-2024 परीक्षा में पेपर लीक पर केन्द्र सरकार से जवाब चाहते है।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी देशभर के छात्रों को न्याय दिलवाने के लिए संघर्ष करने में किसी प्रकार की कोई कसर नहीं छोड़ेगी।

इस अवसर पर सांसद उम्मेदाराम बेनीवाल, विधायक रफीक खान, हाकम अली, मनोज मेघवाल, अमीन कागजी, अमित चाचाण, वीरेन्द्र सिंह, घनश्याम मेहर, भीमराज भाटी, भगवाना राम सैनी, शिमला नायक, डूंगरराम गेदर, प्रशान्त सहदेव शर्मा, पीतराम काला, डॉ. विकास चौधरी, अनिता जाटव, पूर्व मंत्री डॉ. जितेन्द्र सिंह, प्रताप सिंह खाचरियावास, जिला कांग्रेस अध्यक्ष आर. आर. तिवाड़ी सहित अनेक कांग्रेजसन शामिल हुए।

Share this story