'हम नहीं छोड़ेंगे, आज तो घर चलना ही पड़ेगा', पति को घर ले जाने की जिद, बिहार में बीच सड़क फैमिली ड्रामा

df

Newspoint24/ newsdesk / एजेंसी इनपुट के साथ

वैशाली। बिहार (Bihar) के वैशाली (Vaishali) में बीच सड़क एक फैमिली का जमकर ड्रामा देखने को मिला। यहां के हाजीपुर (Hajipur) कलेक्ट्रेट परिसर में पति-पत्नी और बेटे में जमकर विवाद हुआ।

पत्नी और बेटा बार-बार पिता का हाथ पकड़कर उसे घर चलने को कह रहे थे लेकिन वह जाने को राजी नहीं था। पत्नी पति का कमर पकड़े उसे प्यार से, धमकी देकर घर चलने को कह रही थी। पत्नी ने बताया कि उसके पति ने दो साल से घर छोड़ दिया है। बच्चों तक को देखने नहीं आते।

जबकि उसके पति का कहना है कि उसकी पत्नी बिल्कुल भी नहीं सुनती। वह वही काम करती है जो मायके की तरफ से बोला जाता है। इस दौरान बड़ी संख्या में लोग वहां मौजूद रहे और दोनों को समझाने का प्रयास करते दिखे। 

क्या है पूरा मामला

बताया जा रहा है कि सदर प्रखंड के दिघी कला का रहने वाला अभय कुमार सिंह शिक्षक है। वह दो साल पहले अपनी फैमिली को छोड़कर भाग गया था। उसकी पत्नी का नाम ममता कुमारी है। दोनों का 20 साल का बेटा और एक 18 साल की बेटी है।

अभय दो साल से घर नहीं लौटा। गुरुवार को वह किसी काम से सिविल कोर्ट के एक वकील से मिलने आया था। बस इसकी जानकारी उसकी पत्नी और बच्चों को मिल गई। सभी वहां पहुंच गए और उसे घर ले जाने की जिद करने लगे।

सड़क पर हाई-वोल्टेज ड्रामा

पत्नी, बच्चों की जिद के आगे अभय उनकी कोई बात सुनने को तैयार नहीं था। सिविल कोर्ट के बाहर कलेक्ट्रेट परिसर में घंटों यह हाईवोल्टेज ड्रामा चलता रहा। अभय भागने की कोशिश कर रहा था लेकिन उसकी पत्नी और बच्चों ने उसे पकड़ लिया।

जब बवाल बढ़ा तो वहां से गुजर रहे लोगों ने दोनों को समझाया लेकिन दोनों अपनी-अपनी बात पर अड़े रहे। अभय की माने तो उसकी घर में बिल्कुल भी नहीं चलती। पत्नी सिर्फ मायके वालों की सुनती है और वहां से जो कुछ कहा जाता है, वही करती है।

इसीलिए वह घर से चला या जबकि पत्नी का कहना है कि उसका पति बिना किसी कारण ही घर से चला गया है। 

Share this story