60 छात्राओं का नहाते वक्त Video बनाकर किसे भेजती थी गर्ल, पुलिस ने किया खुलासा...चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी का मामला

60 छात्राओं का नहाते वक्त Video बनाकर किसे भेजती थी गर्ल, पुलिस ने किया खुलासा...चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी का मामला

Newspoint24/newsdesk/एजेंसी इनपुट के साथ

चंडीगढ़। पंजाब के मोहाली की एक प्राइवेट यूनिवर्सिटी में 60 छात्राओं का नहाते वक्त वीडियो बनाकर वायरल करने के मामले को लेकर बवाल मच गया है। इस घटना को लेकर  शनिवार रात दो बजे से सुबह तक यूनिवर्सिटी में काफी हंगामा हुआ है।

छात्राओं ने फरिजनों के साथ कैंपस में ही विरोध-प्रदर्शन शुरू कर दिया। लेकिन पुलिस के आने के बाद और कार्रवाई का आश्वासन मिलने के बाद छात्र शांत हुए हैं। वहीं जांच के बाद पुलिस का बयान सामने आया है।

मोहाली के एसएसपी विवेक सोनी रविवार सुबह यूनिवर्सिटी कैंपस पहुंचे और उन्होंने बताया छात्रा साथी लड़कियों के वीडियो बनाकर किसे भेजती थी।

 एसएसपी ने कहा-लड़की वीडियो बनाकर शिमला भेजती थी

मीडिया से बात करते हुए मोहाली के एसएसपी विवेक सोनी बताया कि इस मामले हमने आरोपी छात्रा को गिरफ्तार कर लिया है। उससे पूछताछ जारी है। पुलिस के पास सबूत मिल गए हैं कि वह वीडियो बनाने के बाद शिमला में किसी शख्स को ये वीडियो बनाकर भेजती थी।

हम इस मामले में अभी जांच कर रहे हैं और पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं कि वह किस उद्देशय से लड़कियों के वीडियो बनाकर भेजती थी। साथ ही आरोपी युवक को गिरफ्तार करने के लिए मोहाली से पुलिस टीम शिमला के लिए रवाना हो चुकी है।

पुलिस ने कहा-किसी से लड़की ने नहीं की सुसाइड की कोशिश

वहीं चर्चा चल रही है कि जिन 60 लड़कियों का नहाते वक्त वीडियो बनाया था, उन्हीं में से 8 छात्राओं ने सुसाइड की कोशिश की है। जिसमें एक की हालत गंभीर बनी है। लेकिन मोहाली एसएसपी विवेक सोनी ने बताया कि किसी भी तरह के सुसाइड करने का कोई मामला सामने नहीं आया है।

अभी तक जो जांच पड़ताल की गई है, साथ ही पूछताछ के दौरान किसी ने कोई आत्महत्या का प्रयास नहीं किया है।

जानिए क्या है पूरा मामला

बता दें कि शनिवार शाम करीब साढ़े सात बजे 100 से ज्यादा छात्राओं ने यूनिवर्सिटी हॉस्टल में जमकर हंगामा किया था। जैसे-जैसे रात होती गई हंगामा और तेज होता गया। लड़कियों के परिजन और स्टूडेंट यूनियन ने भी आकर विरोध शुरू कर दिया।

छात्राओं ने आरोप लगाया है कि गर्ल्स हॉस्टल में रहने वाली एक छात्रा ने 60 छात्राओं का नहाते वक्त वीडियो बनाया था। वह इन वीडियोज को छात्रा एक लड़के को भेजती थी।

जिसके बाद वो लड़का इन वीडियो को इंटरनेट पर अपलोड करता था। ये वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। जिसको लेकर छात्रों ने यूनिवर्सिटी के गेट पर ‘वी वांट जस्टिस’ के नारे लगाए। 

चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी प्रबंधन पर मामले को दबाने का आरोप 

छात्रों ने बताया कि ये लड़की लंबे समय से लड़िकयों के वीडियो बना रही थी। साथ ही उन्होंने चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी प्रबंधन पर मामले को दबाने का आरोप लगाया है। छात्रों का कहना है कि इस घटना की शिकायत उन्होंने यूनिवर्सिटी प्रबंधन से की थी।

लेकिन उन्होंने इस मामले में कोई कार्रवाई नहीं की। इसी वजह से छात्रों का गुस्सा भड़क गया और वह देर रात यूनिवर्सिट पहुंच गए। इतना ही नहीं जिस लड़की ने यह वीडियो बनाए थे उसे रात को हॉस्टल के कमरे में बंद किया गया था ताकि अन्य छात्र उस पर हमला न कर दें। हालांकि पुलिस ने उसे सुबह हिरासत में ले लिया।

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल का आया बयान

इस पूरे मामले को लेकर दिल्ली के सीएम और आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक का बयान भी सामने आया है। उन्होंने इस घटना को शर्मनाक बताते हुए ट्वीट कर लिखा-यूनिवर्सिटी में एक छात्रा ने कई छात्राओं के आपत्तिजनक वीडियो बनाकर वायरल किए हैं।  

ये बेहद संगीन और शर्मनाक है। पुलिस से आशा करता हूं कि इस मामले में जो भी दोषी हों उन्हें कड़ी से कड़ी सजा मिले। पीड़ित बेटियां हिम्मत रखें पंजाब सरकार आपके साथ हैं।

पंजाब सरकार के शिक्षा मंत्री ने लड़कियों से की अपील

वहीं इस पूरे मामले को लेकर पंजाब सरकार के शिक्षा मंत्री हरजोत सिंह बैंस ने यूनिवर्सिटी में पढ़ने वाली छात्राओं से शांति बनाए रखने की अपील की है। मंत्री ने कहा-जिस ने भी यह शर्मनाक हरकत की है उसे प्रशासन छोड़ेगा नहीं।

पुलिस ने इसकी जांच शुरू कर दी है। जल्द ही सब साफ हो जाएगा। इसलिए मैं लड़िकयों और उनके परिजनों से अपील करता हूं कि आप लोग हंगामा नहीं करें। अपनी बेटियों को कहें कि उनके साथ न्याय होगा। यह एक संवेदनशील मामला है। हमारी बहन-बेटियों की सुरक्षा करना सरकार का पहला काम है।

Share this story