छात्रा के प्राइवेट पार्ट को टच करता था टीचर, शिकायत पर प्रिंसिपल ने स्टूडेंट्स के खिलाफ सुनाया शॉकिंग फैसला

छात्रा के प्राइवेट पार्ट को टच करता था टीचर, शिकायत पर प्रिंसिपल ने स्टूडेंट्स के खिलाफ सुनाया शॉकिंग फैसला

Newspoint24/newsdesk/एजेंसी इनपुट के साथ

झुंझुनू। राजस्थान के झुंझुनू जिले से एक 11वीं क्लास की छात्रा से छेड़छाड़ का मामला सामने आया है। यह छेड़छाड़ उसको पढ़ाने वाले टीचर ने  ही की। टीचर छात्रा को हमेशा फेल करने की धमकी देकर उसके साथ छेड़छाड़ करता रहा।

लेकिन करीब 2 से 3 महीने बाद जब छात्रा परेशान हुई तो उसने इस बात पर शिकायत स्कूल प्रिंसिपल को कर दी। प्रिंसिपल ने भी मामले में कोई जांच करने की बजाय स्कूल की छात्रा की टीसी काट दी।

प्राइवेट टच करता था छात्र

मामला झुंझुनू जिले के आसलवास गांव का है। जहां की सरकारी स्कूल में टीचर अरविंद ने ग्यारहवीं क्लास की छात्रा से करीब 3 महीने पहले छेड़छाड़ करना शुरू की। 20 दिन पहले से मामला और भी बढ़ता गया।

छात्रा को अकेले देख टीचर उसके प्राइवेट पार्ट को टच करने लगा। ऐसे में छात्रा ने यह बात अपनी मां को बताई। और कहा कि अब वह तभी स्कूल जाएगी जब आरोपी टीचर के खिलाफ कार्रवाई हो। ऐसे में छात्रा के मां और पिता मामले को लेकर स्कूल प्रिंसिपल से मिले। जिन्होंने छात्रा की टीसी ही काटकर दे दी। 

इसके बाद भी आरोपी टीचर अरविंद अपनी हरकतों से बाज नहीं आया। जो गांव में छात्रा को बदनाम करने लगा। इसके साथ ही छात्रा को धमकियां भी देने लगा। छात्रा के मुताबिक टीचर अरविंद पहले भी दो से तीन छात्राओं के साथ ऐसा कर चुका है।

हालांकि डर के मारे वह सामने नहीं आई। वही पहले जहां मामले में प्रिंसिपल ने टीसी काट दी थी। वहीं अब प्रिंसिपल घर वालों पर वापस छात्रा का एडमिशन करवाने के लिए दबाव बना रहा है। वहीं परिजनों ने मामले को लेकर पुलिस में भी शिकायत दी है।

Share this story