पेट दर्द की शिकायत लेकर क्लीनिक गई महिला के साथ हो गया कांड, सामने आई चौकाने वाली सच्चाई

पेट दर्द की शिकायत लेकर क्लीनिक गई महिला के साथ हो गया कांड, सामने आई चौकाने वाली सच्चाई

Newspoint24/newsdesk/एजेंसी इनपुट के साथ

मुजफ्फरपुर।  बिहार के मुजफ्फरपुर में एक चौकाने वाली घटना हुई है। दरअसल यहां यूट्रस का ऑपरेशन कराने पहुंची महिला कि किडनी निकालने का मामला सामने आया है। जिले के बरियारपुर ओपी में यह वारदात हुई है, जहां 33 वर्षीय महिला सुनीता देवी को काफी दिनों से पेट में दर्द था, जिसे दिखाने के लिए परिजनों ने उसे मुजफ्फरपुर के शुभ कांत क्लीनिक ले जाया गया।

चेकअप के बाद डॉक्टर ने कहां की महिला का यूट्रस खराब हो गया है और ऑपरेशन कर उसे निकालना होगा। जिसके बाद परिवार वालों ने महिला को शुभम कांत क्लीनिक में एडमिट करा दिया।

फिर ऑपरेशन के बाद महिला की तबीयत और बिगड़ने लगी तो परिवार वालों ने महिला को पटना के मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल पीएमसीएच लेकर पहुंचे। जहां जांच में पता चला कि महिला की दोनों किडनी निकाल ली गई है।

जिसके बाद परिवार वालों ने शुभ कांत क्लीनिक के संचालक पवन के खिलाफ ह्यूमन पार्ट्स ट्रांसप्लांट एक्ट और एससी एसटी एक्ट के तहत नजदीकी थाने में शिकायत दर्ज कराई गई है। फिलहाल महिला की स्थिति काफी नाजुक है और परिवार वालों का कहना है की उनके पास इतने पैसे नहीं है कि महिला का इलाज कहीं और करवा सके। 

ऑपरेशन के बाद भी बिगड़ने लगी हालत

महिला के परिजनों ने बताया कि सुनीता को काफी दिनों से पेट में दर्द था, जिसे दिखाने के लिए परिवार वालों ने उसे शुभ कांत नरसिंह अस्पताल ले गए। वहां जांच के बाद डॉक्टरों द्वारा यूट्रस निकालने की बात कही गई और नर्सिंग होम के संचालक पवन कुमार ने कहा कि ऑपरेशन के लिए बाहर से किसी बड़े डॉक्टर को बुलाएंगे।

3 सितंबर को सुनीता का ऑपरेशन हुआ लेकिन ऑपरेशन के बाद सुनीता की हालत और भी खराब होने लगी। तब नर्सिंग होम के डॉक्टरों ने सुनीता को पटना ले जाने को कहा। वहां जांच में पता चला किस सुनीता की दोनों किडनी निकाली गई है।

पीड़िता महिला सुनीता ने बताया कि डॉक्टर ने कहा था कि, पेट में गोला है ऑपरेशन कर निकालना होगा। फिर जब ऑपरेशन के लिए गए तो वहां दोनों किडनी निकाल ली गई और इलाज के नाम पर 30 हजार रुपए भी लिए गए। 

मेडिकल रिपोर्ट आने के बाद की जाएगी कार्यवाही

मामला सामने आने के बाद बरियापुर ओपी प्रभारी राजेश कुमार ने कहा कि महिला पीड़िता सुनीता की मां ने लिखित शुभ कांत क्लीनिक के संचालक पवन के खिलाफ एफ आई आर दर्ज कराई गई है।

इस मामले को गंभीरता से लिया जा रहा है जांच रिपोर्ट आने के बाद नर्सिंग होम के संचालक और ऑपरेशन करने वाले डॉक्टर के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी। महिला के परिजनों ने ह्यूमन बॉडी ट्रांसप्लांट एक्ट और एससी एसटी एक्ट के तहत मामला दर्ज कराया है।

Share this story