नीलामी के लिए थाने में रखी थी कार, जब खोलकर देखा, तो बाल्टी में भरी मिली महिला की खोपड़ी और हड्डियां

नीलामी के लिए थाने में रखी थी कार, जब खोलकर देखा, तो बाल्टी में भरी मिली महिला की खोपड़ी और हड्डियां

Newspoint24/newsdesk/एजेंसी इनपुट के साथ

विलुप्पुरम। तमिलनाडु के विलुप्पुरम में एक थाने में नीलामी के लिए रखी कार के अंदर मानव खोपड़ी और कंकाल मिलने का चौंकाने वाला मामला सामने आया है। हालांकि यह किसी मर्डर मिस्ट्री का हिस्सा नहीं था, बल्कि पुलिस की गलती का नतीजा था। जानिए आखिर मामला क्या है?

पुलिस जांच पूरी होने तक सुरक्षित रखना पड़ता है

हुआ यूं कि पुलिस मारकानम पुलिस स्टेशन परिसर में कोट्टाकुप्पम निषेध प्रवर्तन विंग(Kottakuppam Prohibition Enforcement Wing) द्वारा जब्त किए गए वाहनों की नीलामी कर रही थी। नीलामी शुरू करने से पहले पुलिस ने वहां मौजूद लोगों से वाहनों को चेक करने को कहा था।

जब एक व्यक्ति ने वहां रखी सेडान कार( sedan-type car) खोली, तो उसमें रखी प्लास्टिक की बाल्टी में खोपड़ी और हड्डियां देखकर उसके होश उड़ गए। हालांकि पुलिस ने बताया कि ये खोपड़ी और हड्डी के टुकड़े कुछ महीने पहले मिली एक लावारिस महिला के शरीर के हैं। इन्हें लैब टेस्ट के बाद सुरक्षित कार में रखा गया था।दरअसल, थाने में ऐसे अवशेषों को रखने के लिए कोई जगह नहीं

यह मामला सितंबर, 2021 में सामने आया था। मध्य प्रदेश के इंदौर एयरपोर्ट मैनेजमेंट के उस समय होश उड़ गए थे, जब एक साध्वी के बैग से चेकिंग के दौरान मानव खोपड़ी और हड्डियां मिली थीं। साध्वी उज्जैन से आई थी।

है। इसलिए पुलिस परिसर में खड़े वाहनों में इन्हें संभालकर रख देती है। व्हीकल की चाबी थाने में रहती है। पुलिस ने तर्क दिया कि सैम्पल को सुरक्षित रखने के लिए कार में बंद रखा गया होगा और वाहन की चाबी पुलिस के पास थी।

विल्लुपुरम के एसपी एन श्रीनाथ ने कहा कि वह कार में पाए गए हड्डी के टुकड़ों के बारे में पूछताछ कर रहे हैं और विल्लुपुरम के सभी पुलिस थानों को निर्देश दिया गया है कि वो ऐसे सैम्पल पुलिस थानों में न रखें।

इंदौर में एयरपोर्ट में साध्वी के बैग में मिली थी खोपड़ी

वो दिल्ली जा रही थी। साध्वी से जब CISF और पुलिस ने पूछताछ की, तो उसने बताया कि खोपड़ी और हड्डियां हरिद्वार विसर्जन के लिए ले जा रही थी। हालांकि बाद में पूछताछ के बाद साध्वी को छोड़ दिया।

इसे बाद दूसरे साधु सड़क मार्ग से अस्थियां हरिद्वार ले गए। हुआ यूं था कि विस्तारा एयरलाइंस की फ्लाइट इंदौर से 8.30 बजे वापस दिल्ली जाने वाली थी।

तभी उज्जैन निवासी साध्वी योगमाता सचदेवा दिल्ली जाने के लिए वहां पहुंचीं। बैग की स्क्रीनिंग करने पर उसमें कुछ संदिग्ध नजर आया। जब बैग खुलवाया तो अस्थियां निकलीं।

वैन से मिले थे 28 मानव कंकाल

यह मामला अक्टूबर, 2021 में सामने आया था। बिहार के अररिया में भारत-नेपाल सीमा पर एक वैन से बड़ी संख्या में मानव कंकाल बरामद हुए थे। करीब 28 मानव कंकाल जोगबनी स्थित सीमा पर नेपाल आर्म्स फोर्स ने बरामद किए थे।

उस समय बॉर्डर कोरोना महामारी की वजह से लगे लॉकडाउन के कारण बंद था। 4 अक्टूबर की देर शाम नेपाल आर्म्स फोर्स भारत से नेपाल सीमा में प्रवेश करने वाले व्हीकल्स की चेकिंग कर रही थी। तभी एक वैन से ये कंकाल मिले थे। पहले यह लगा था कि ये जानवरों के कंकाल होंगे, लेकिन बाद में पता चला कि ये मानव कंकाल हैं।

Share this story