Monsoon Update: मप्र, बिहार, राजस्थान, पश्चिम बंगाल,असम, उत्तराखंड में फिर भारी बारिश का खतरा

 Monsoon Update: मप्र, बिहार, राजस्थान, पश्चिम बंगाल,असम, उत्तराखंड में फिर भारी बारिश का खतरा

Newspoint24/newsdesk/एजेंसी इनपुट के साथ

नई दिल्ली। सितंबर में मानसून कई राज्यों में जबर्दस्त बारिश लाया है। भारतीय मौसम विभाग (IMD) के अनुसार, 18 सितंबर के आस पास एक नया चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र उत्तरी बंगाल की खाड़ी में उड़ीसा और पश्चिम बंगाल के तट के पास बन सकता है।

इससे भारी बारिश का अनुमान है। मौसम विभाग ने आजकल में पूर्वी और मध्य उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों, उत्तरी कोंकण और गोवा और दक्षिण गुजरात में मध्यम से भारी बारिश की चेतावनी दी है।

इसके अलावा उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल, बिहार के कुछ हिस्सों, सिक्किम असम, मेघालय, उत्तराखंड और पूर्वी राजस्थान में हल्की से मध्यम बारिश के साथ कहीं-कहीं भारी बारिश हो सकती है। (पहली तस्वीर गोरखपुर की है)

इन राज्यों में हल्की या मध्यम बारिश के आसार

मौसम विभाग के अनुसार, हिमाचल प्रदेश, पंजाब के कुछ हिस्सों, हरियाणा के कुछ हिस्सों, पश्चिमी उत्तर प्रदेश, दिल्ली, गुजरात के शेष हिस्सों, मध्य महाराष्ट्र, ओडिशा, छत्तीसगढ़ और पूर्वी मध्य प्रदेश में हल्की बारिश संभव है। अंडमान और निकोबार द्वीप समूह तमिलनाडु, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में एक या दो स्थानों पर हल्की बारिश हो सकती है।

नासिक में भारी बारिश, कई बांधों से छोड़ा गया पानी

महाराष्ट्र के नासिक जिले के त्र्यंबकेश्वर और इगतपुरी इलाकों में बुधवार रात से हो रही भारी बारिश से स्थानीय बांधों का जलस्तर बढ़ गया है। गुरुवार की रात 8 बजे तक दारना बांध से 5,924 क्यूसेक पानी छोड़ा जा चुका था। इसके अलावा पालखेड़ से 5,964 क्यूसेक, नंदू-मध्यमेश्वर से 17,689 क्यूसेक, गंगापुर से 7,389 क्यूसेक और कड़वा से 2,499 क्यूसेक पानी छोड़ा गया।

इसके अलावा अन्य रिजरवायर्स वाल्देवी,आलंदी और भोजापुर से भी पानी छोड़ा गया। गंगापुर बांध से डिस्चार्ज होने से गोदावरी नदी का जल स्तर बढ़ गया है, जिससे रामकुंड और उसके आसपास के छोटे मंदिर जलमग्न हो गए हैं।

दिल्ली में बारिश के आसार

दिल्ली के कई हिस्सों में गुरुवार को हुई बारिश ने अधिकतम तापमान को महीने के अब तक के न्यूनतम तापमान पर ला दिया, जिससे लोगों को उमस भरी गर्मी से राहत मिली। मौसम विभाग ने शुक्रवार को और बारिश की संभावना जताई है।

भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के अनुसार, गुरुवार को हवाओं के साथ हुई बारिश ने पारा को इस महीने के अब तक के सबसे निचले स्तर पर पहुंचा दिया और लोगों को उमस भरी गर्मी से राहत दी। गुरुवार को अधिकतम तापमान 31.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो मौसम के औसत से दो डिग्री कम है।

यह महीने का अब तक का सबसे कम अधिकतम तापमान भी है। मौसम विभाग ने शुक्रवार को भी हल्की बारिश और आसमान में बादल छाए रहने की संभावना जताई है। आईएमडी ने कहा कि शुक्रवार को शहर का अधिकतम और न्यूनतम तापमान क्रमश: 31 और 23 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने की संभावना है।

अगस्त में भारी बारिश के बाद, सितंबर में अब तक दिल्ली और आसपास के इलाकों में मानसून गतिविधि मंद रही है। दिल्ली में कम वर्षा के कारण सितंबर के अधिकांश दिनों में अधिकतम तापमान सामान्य से अधिक दर्ज किया गया है। मौसम पूर्वानुमानकर्ताओं ने कहा कि उत्तर पश्चिमी मध्य प्रदेश और इसके पड़ोस में एक अच्छी तरह से चिह्नित कम दबाव के क्षेत्र के प्रभाव से अगले कुछ दिनों में दिल्ली और आसपास के इलाकों में बारिश होने की संभावना है। 

Monsoon rain details in India, heavy rain alert in many states kpa

तस्वीर-आगरा

राजस्थान के कुछ हिस्सों में भारी बारिश

मध्य प्रदेश के ऊपर कम दबाव के क्षेत्र के कारण हुई भारी से बहुत भारी बारिश ने पिछले 24 घंटों में राजस्थान के कई हिस्सों को प्रभावित किया है। मध्य प्रदेश पर निम्न दबाव का क्षेत्र पूर्वी उत्तर प्रदेश की ओर बढ़ने की संभावना है, जिससे कोटा, उदयपुर और भरतपुर संभाग के कुछ हिस्सों में एक या दो स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश और भारी बारिश होने की संभावना है। मौसम विभाग ने 16 सितंबर से बारिश में गिरावट का अनुमान जताया है।

बीते दिन इन राज्यों में हुई बारिश

स्काईमेट वेदर(skymet weather) के अनुसार, बीते दिन बिहार के उत्तरी भागों, सिक्किम, मेघालय, मध्य महाराष्ट्र, आंतरिक तमिलनाडु और अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में हल्की से मध्यम बारिश के साथ कहीं-कहीं भारी बारिश हुई।

असम, गंगीय पश्चिम बंगाल, छत्तीसगढ़ के कुछ हिस्सों, तटीय आंध्र प्रदेश, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह के शेष हिस्सों, तटीय कर्नाटक, कोंकण और गोवा, उत्तराखंड, पंजाब, दिल्ली, हिमाचल प्रदेश और पूर्वी राजस्थान में हल्की से मध्यम बारिश हुई। जबकि राजस्थान के पश्चिमी भाग, झारखंड, शेष पूर्वोत्तर भारत, आंतरिक ओडिशा और केरल में हल्की बारिश हुई। 

उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और गुजरात में कई स्थानों पर मध्यम से भारी बारिश दर्ज की गई।

Share this story