पश्चिमी विक्षोभ की सक्रियता से जयपुर समेत अन्य जगहों पर मेघ होंगे मेहरबान

पश्चिमी विक्षोभ की सक्रियता से जयपुर समेत अन्य जगहों पर मेघ होंगे मेहरबान

Newspoint24/newsdesk/एजेंसी इनपुट के साथ

जयपुर। राजधानी जयपुर समेत प्रदेशभर में एक बार दोबारा मौसम में बदलाव का दौर शुरू हो सकता है। पारे में उतार-चढ़ाव के साथ ही मेघ बरसने का सिलसिला एक बार फिर से शुरू हो चुका है। बुधवार को जयपुर समेत कई जगह बारिश हुई।

मौसम विभाग जयपुर केंद्र के मुताबिक मानसून की विदाई के बीच यह बारिश पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने से हो रही है। राजधानी जयपुर में गुरुवार सुबह मौसम में बदलाव नजर आया। कुछेक जगहों पर हल्की बूंदाबांदी होने से मौसम खुशनुमा रहा, इसके साथ ही हल्की ठंडी हवाओं का दौर भी जारी रहा।

बंगाल की खाड़ी व उड़ीसा के तट पर एक और कम दबाव का क्षेत्र यानी लो प्रेशर एरिया बना है। जो आने वाले 24 घंटों में उड़ीसा व उत्तरी छत्तीसगढ़ की तरफ पश्चिमी दिशा की ओर आगे बढ़ेगा।

इस तंत्र के प्रभाव से आगामी चार-पांच दिन पूर्वी राजस्थान के भरतपुर, जयपुर, कोटा व उदयपुर संभाग के कुछ भागों में मेघगर्जन के साथ हल्के से मध्यम दर्जे की बारिश होने की प्रबल संभावना है। इसका सबसे ज्यादा असर भरतपुर व कोटा संभाग में दिख सकता है। जहां तीन से चार दिनों तक भारी से अति भारी बारिश हो सकती है।

मौसम विभाग के अनुसार नए मौसमी तंत्र का असर पूर्वी राजस्थान में ही ज्यादा रहेगा। इस दौरान मध्यम से तेज बारिश का दौर आगामी चार से पांच दिन जारी रहेगा।

गुरुवार को जयपुर, दौसा, भरतपुर, धौलपुर, करौली, टोंक, सवाई माधोपुर, कोटा, बूंदी, भीलवाड़ा, झालावाड़ और बारां में, 23 सितंबर को इन सभी जिलों के अलावा अजमेर, नागौर, राजसमंद, चित्तौडग़ढ़, प्रतापगढ़ जिलों में भी हल्की से मध्यम बारिश होने के पूरे आसार हैं।

Share this story