धमतरी-समय पर नहीं मिलता आटो, सिटी बस सेवा शुरू करने की मांग

धमतरी-समय पर नहीं मिलता आटो, सिटी बस सेवा शुरू करने की मांग

Newspoint24/newsdesk/एजेंसी इनपुट के साथ 

धमतरी ।कोरोना संक्रमण काल के बाद से बंद सिटी बस सेवा पिछले तीन सालों बाद भी शुरू नहीं हो पाया है, जबकि जरूरतमंद लोग सिटी बस सेवा शुरू होने का इंतजार कर रहे हैं। गांव से शहर आने के लिए समय पर आटो नहीं मिल पाता। वहीं प्रति सवारी आठ से 10 किलोमीटर दूरी के लिए 40 रुपये तक यात्री किराया है। ऐसे में उन्हें कम दूरी पर अधिक खर्चा कर यात्रा करना मुसीबत बनी हुई है। सिटी बस सेवा शुरू होने से ग्रामीणों की यह दिक्कतें दूर हो सकती है।

ग्राम पंचायत गंगरेल, मरादेव, रूद्री, गोकुलपुर, श्यामतराई, चिटौद, मुजगहन, रत्नाबांधा, पोटियाडीह, लोहरसी, खरतुली, परसतराई, पेंडरवानी, कंवर, आमदी, अछोटा, कोलियारी, खरेंगा, अमेठी, अर्जुनी, खपरी, भानपुरी आदि गांव शहर से लगे हुए है। इन गांवों की दूरी शहर से करीब आठ से 10 किलोमीटर है, ऐसे में किसी न किसी कार्य लेकर ग्रामीण हर रोज शहर पहुंचते हैं।

वहीं इन गांवों के विद्यार्थी कालेज व स्कूल की पढ़ाई के लिए आना-जाना करते हैं। वर्ष 2015 में सिटी बस की सेवा शुरू होने के बाद से ग्रामीण, विद्यार्थी समेत सभी वर्गाें को काफी राहत मिली थी। पांच से 10 रुपये यात्री किराया में लंबी दूरी तक सफर कर लेते थे, लेकिन कोरोना काल से सिटी बस सेवा बंद है, ऐसे में उन्हें आटो से आना-जाना करना पड़ता है।

क्षेत्र के जागरूक व्यक्ति लीलाराम साहू, घनाराम साहू, शंकर लाल साहू और खोमेन्द्र मछेन्द्र ने कहा कि सिटी बस सेवा शुरू होने से लोगों को काफी राहत मिली थी। धमतरी शहर व आसपास गांवों तक पहुंचने के लिए यह बेहतर सुविधा थी, लेकिन कोरोना काल से बंद होने के बाद अब तक शुरू नहीं हो पाया है, जबकि इस यात्री वाहन की जरूरत सभी वर्ग को है।

इस संबंध में नगर निगम के आयुक्त विनय पोयाम का कहना है कि जल्द ही शहरी समिति की बैठक होगी, इसमें उच्चाधिकारियों के समक्ष सिटी बस सेवा शुरू करने की बातें रखी जाएगी, इसके बाद ही उचित निर्णय लिया जाएगा।

Share this story