राजस्थान में जानलेवा बारिश: पांच लोगों की मौत, राज्य में 17 सितंबर तक भारी बारिश का अलर्ट

राजस्थान में जानलेवा बारिश: पांच लोगों की मौत, राज्य में 17 सितंबर तक भारी बारिश का अलर्ट

Newspoint24/newsdesk/एजेंसी इनपुट के साथ

जयपुर। राजस्थान में करीब दो सप्ताह बाद लौटा मानसून पांच मौतें भी साथ लाया। प्रदेश में बरसात के साथ गिरी बिजली ने पांच लोगों की जान ले ली।

कोटा, झालावाड़, बारां और चित्तौडगढ़ में आकाशीय बिजली गिरने से पांच लोग काल का ग्रास बन गए। जिनमें कोई खेत में काम करते हुए तो कोई रास्ते में जाते समय बिजली की जद में आ गया। सभी का अंतिम संस्कार कर दिया गया है।

खेत को कोई शिक्षक की मौत

आकाशीय बिजली से चित्तौडगढ़ जिले के सुखवाड़ा ग्राम पंचायत के मुंशी जी खेड़ा गांव में खेत में काम कर रहे 35 वर्षीय शोभालाल की मौत हो गई। जो सरकारी विद्यालय का शिक्षक भी था।

इसी तरह कोटा जिले के सांगोद थाना इलाके के हींगी गांव में बारिश के साथ गिरी बिजली ने खेत में काम कर रहे 55 वर्षीय गिरिराज मेहरा को चपेट में ले लिया। 

झालावाड़ जिले के खानपुर थाना क्षेत्र के बाघेर में 55 वर्षीय कन्हैयालाल, मनोहर थाना इलाके के मनपसर गांव निवासी 33 वर्षीय रामनरेश तथा बारां जिले के कवाई कस्बे के नजदीकी गांव फूल बड़ौदा में 48 वर्षीय छीतरलाल माली की जिंदगी लील ली।

वहीं, खानपुर में 40 वर्षीय बाबूलाल व मनोहर थाना इलाके की ही संतोष पत्नी रामनरेश भी आकाशीय बिजली की जद में आने पर गंभीर रूप से झुलस गई।

14 जिलों में जमकर बरसे मेघ

प्रदेश में फिर से सक्रिय हुआ मानसून शनिवार को 13 जिलों में बरसा। इसी दौरान जयपुर, सीकर, टोंक, अलवर, दौसा, सवाई माधोपुर, उदयपुर, डूंगरपुर, बांसवाड़ा, कोटा, बारां, बूंदी, झालावाड़, चित्तौडगढ़ जिलों में कई जगहों पर बरसात हुई।

मौसम केन्द्र जयपुर के मुताबिक सबसे ज्यादा बारिश डूंगरपुर में 16 एमएम हुई। इसके अलावा चित्तौडगढ़ में 9, कोटा में 8.4, बारां में 7.5, टोंक के वनस्थली में 7 तथा बांसवाड़ा में 4 एमएम बरसात हुई।

पूरे सप्ताह बारिश के आसार

इधर, मौसम विभाग के अनुसार राजस्थान में अब पूरे सप्ताह बारिश होने की संभावना है। जिसका असर 16-17 सितंबर तक रहेगा। इसके बाद मानसून एक बार फिर ब्रेक ले सकता है। जिसके एक सप्ताह बाद फिर लौटने की संभावना है।

Share this story