रीट एग्जाम 2022 में संकट: सोशल मीडिया में वायरल हुआ पेपर, 16 लाख कैंडिडेट्स से कराया था रजिस्ट्रेशन

रीट एग्जाम 2022 में संकट: सोशल मीडिया में वायरल हुआ पेपर, 16 लाख कैंडिडेट्स से कराया था रजिस्ट्रेशन

Newspoint24/newsdesk/एजेंसी इनपुट के साथ

जयपुर। रीट परीक्षा 2022 का पेपर सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। बताया जा रहा है कि यह पेपर दूसरे दिन की दूसरी शिफ्ट का है, जबकि रीट परीक्षा के बाद सभी अभ्यर्थियों के पेपर वापस ले ली गए थे।

इस पेपर के वायरल होने के बाद फिलहाल किसी सरकारी अफसर का बयान अभी तक सामने नहीं आया है। लेकिन अगर यह पेपर सही है तो एक बार फिर से रीट परीक्षा पर संकट के बादल मंडरा सकते हैं।

रीट परीक्षा पेपर लीक के मामले में पिछले सितंबर में परीक्षा को रद्द कर दिया गया था और उस परीक्षा को  फिर से 23 और 24 जुलाई को कराया गया है। शनिवार और रविवार दो दिन चली इस परीक्षा में 16 लाख से भी ज्यादा अभ्यर्थी पंजीकृत थे। 

94 पृष्ट का था पेपर, सभी का प्रश्नपत्र जमा करा लिया गया था 

परीक्षा कराने वाली संस्था माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के अधिकारियों का कहना है कि प्रश्न पत्र 94 पेज का था। परीक्षा तीन बजे से शुरु हो गई थी और दो बजे परीक्षा सेंटर पर एंट्री बंद कर दी गई थी। पेपर शाम को वायरल होना बताया जा रहा है।

परीक्षा से जुडे अफसरों का कहना है कि संभव है किसी अभ्यर्थी ने अंदर के कुछ पेज फाड़ लिए हों और  उसे फिर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया गया हो। अफसरों का कहना है कि अब जब पेपर हो चुका और पेपर होने के बाद इस तरह का घटनाक्रम सामने आ रहा है तो यह काई मायने नहीं रखता है। 

किरोड़ी लाल बोले सत्यता की जांच होनी चाहिए 

उधर इस पूरे मामले में भाजपा सांसद किरोड़ी लाल मीणा ने आपत्ति दर्ज करा दी है। उनका कहना है कि जब परीक्षा का पेपर वापस ले लिया गया था तो ये पेपर सोशल मीडिया पर वायरल कैसे हो गया।

चालीस से 42 प्रश्न वायरल हो रहे हैं जो हूबहू पेपर से मिलते जुलते हैं। यह सही नहीं है। अगर यह सही होता है तो परीक्षा फिर सवालों के घेरे में आ सकती है। किरोड़ी लाल ने कहा कि किसी भी कीमत पर सत्यता की जांच होनी चाहिए। लाखों अभ्यर्थियों के भविष्य का सवाल है।

Share this story