बेगूसराय गोलीकांड: फायरिंग करने वाले सभी आरोपी अरेस्ट, 47 मिनट में 11 लोगों पर चलाई थी गोली

बेगूसराय गोलीकांड: फायरिंग करने वाले सभी आरोपी अरेस्ट, 47 मिनट में 11 लोगों पर चलाई थी गोली

Newspoint24/newsdesk/एजेंसी इनपुट के साथ

बेगूसराय। बिहार के  बेगूसराय में एनएच पर 47 मिनट में 11 लोगों को गोली मारने के सभी आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। शुक्रवार को  बेगूसराय पुलिस पूरे मामले का खुलासा करेगी।

गिरफ्तार आरोपियो में केशव कुमार, सुमित, युवराज व अर्जुन शामिल हैं। केशव कुमार इस गोलीकांड का मास्टर माइंड है। रांची भागने के क्रम में केशव को पुलिस ने जमुई के झाझा स्टेशन से मौर्य एक्सप्रेस ट्रेन से गिरफ्तार किया।

वह रांची भागने की फिराक में था। पूछताछ में उसने घटना में अपनी संलिप्तता स्वीकारी और अपने तीन अन्य साथियों का नाम भी पुलिस को बताया। जिसके बाद पुलिस ने सुमित, युवराज और अर्जन को गिरफ्तार किया।

पुलिस की ओर से इसकी अधिकारिक पुष्टी नहीं की गई है। सूचना है कि दोपहर ढाई बजे पुलिस प्रेस कॉफ्रेंस कर पूरे मामले का खुलासा करेगी। जिले के एसपी का कहना है कि खुलासे चौंकाने वाले होंगे। 

11 लोगों को मारी थी गोली

जानकारी हो कि 13 सितंबर की शाम बाइक सवार अपराधियों ने  बेगूसराय जिले में एनएच पर कहर बरपाया था। 47 मिनट मे 30 किमी तक राह चलते 11 लोगों को गोली मारी गई थी।

जिसमें एक युवक की मौत हुई थी जबकि 10 लोग घायल हुए थे। सबसे पहले अपराधियों ने एनएच 28 पर बछवाड़ा थाना क्षेत्र के गोधना गांव के पास तीन लोगों को गोली मारी थी।

फिर जहां जो मिला उसे गोली मारते गए। घटना में चार अपराधियों की संलिप्तता सामने आई थी। अपराधियों पर पुलिस ने इनाम तक रखा दिया था। अपराधियों ने ऐसा क्यों किया यह पुलिस के खुलासा करने के बाद ही पता चलेगा। 

सरकार की हुई थी आलोचना

घटना के बाद भाजपा ने सरकार को घेरा था। घटना के विरोध में बेगुसराए भाजपा ने बंद कराया था। भाजपाईयों ने ये तक कह दिया था कि सीएम ने खुद गोली चलवाई है। पुलिस भी अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए जगह-जगह छापेमारी कर रही थी।

तीन स्पेशल टीम का गठन किया गया था। इस घटना के सभी आरोपियों की  गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने राहत की सांस ली है। अब देखना यह है कि आखिर अपराधियों ने इस घटना को अंजाम क्यों दिया। बताया जा रहा है कि पकड़ाए सभी अपराधियों का अपराधिक इतिहास रहा है।

Share this story