AIMIM नेता अकबरुद्दीन ओवैसी ने राज ठाकरे पर की आपत्तिजनक टिप्पणी कहा- जो भौंकते हैं, उन्हें भौंकने दो

AIMIM नेता अकबरुद्दीन ओवैसी ने राज ठाकरे पर की आपत्तिजनक टिप्पणी कहा- जो भौंकते हैं, उन्हें भौंकने दो

Newspoint24/ newsdesk / एजेंसी इनपुट के साथ

मुंबई। महाराष्ट्र में लाउडस्पीकर और हनुमान चालीसा (Hanuman Chalisa) को लेकर सियासत जारी है। इस बीच एआईएमआईएम नेता अकबरुद्दीन ओवैसी (AIMIM leader Akbaruddin Owaisi) ने महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना प्रमुख राज ठाकरे (Raj Thackeray) के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी की है। 

अकबरुद्दीन ने औरंगाबाद में एक सभा में राज ठाकरे का नाम लिए बगैर कहा, "मैं यहां किसी को जवाब देने नहीं आया हूं, न ही किसी को बुरा कहने आया हूं। मैं किसी को जवाब नहीं देना चाहता। मेरे पास एक सांसद है और तुम बेघर हो, तुम लापता हो, तुम्हें अपने ही घर से बेदखल कर दिया गया है। मैं कहूंगा कि जो भौंकते हैं, उन्हें भौंकने दो।"

ओवैसी ने आगे कहा कि देश में नफरत की बात होती है, लेकिन वह नफरत से नहीं बल्कि प्यार से जवाब देंगे। देश में अजान की बात हो रही है, लिंचिंग और हिजाब की बात हो रही है, इसलिए डरने की जरूरत नहीं है। बस मुसलमानों को एक साथ खड़े होने की जरूरत है।

औरंगजेब की कब्र पर गए थे अकबरुद्दीन

 इससे पहले अकबरुद्दीन ओवैसी ने खुल्दाबाद में औरंगजेब की कब्र का दौरा किया और फूल चढ़ाए। उनके साथ औरंगाबाद के सांसद इम्तियाज जलील और पूर्व विधायक वारिस पठान भी थे। विधायक अकबरुद्दीन ओवैसी स्कूल ऑफ एक्सीलेंस का शिलान्यास करने औरंगाबाद आए थे।

विवाद पैदा करना चाहते हैं अकबरुद्दीन: चंद्रकांत खैरे

पूर्व सांसद और शिवसेना नेता चंद्रकांत खैरे ने अकबरुद्दीन पर राजनीतिक विवाद पैदा करने की कोशिश करने का आरोप लगाया। उन्होंने आगे कहा कि औरंगजेब सबसे क्रूर मुगल सम्राट था। किसी भी हिंदू या मुस्लिम को उसके मकबरे पर नहीं जाना चाहिए। ओवैसी और उनकी पार्टी के नेता राजनीतिक फायदे के लिए विवाद पैदा करने की कोशिश कर रहे हैं।

वहीं, सांसद इम्तियाज ने कहा कि हमारे नेता हैदराबाद से आए हैं और औरंगाबाद में एक मुफ्त स्कूल शुरू कर रहे हैं जो किसी समुदाय विशेष के लिए नहीं है। यहां सभी बच्चों को मुफ्त शिक्षा मिलेगी। उसी की शिलान्यास रखी गई थी। मैं चाहता हूं कि सभी नेता प्रेरित हों।

Share this story