Man vs Dogs: शिखर धवन ने की अपील- 'केरल में बंद होनी चाहिए जघन्य हत्याएं, यह मानवता के लिए डरावना है'

Man vs Dogs: शिखर धवन ने की अपील- 'केरल में बंद होनी चाहिए जघन्य हत्याएं, यह मानवता के लिए डरावना है'

Newspoint24/newsdesk/एजेंसी इनपुट के साथ

मुंबई। भारतीय क्रिकेटर शिखर धवन ने कुत्तों की हत्याओं पर बयान दिया है। शिखर ने कहा कि यह बहुत भयावह है...धवन ने केरल में हो रही क्रूर हत्याओं को रोकने की अपील की है।

द मैन वर्सेज डॉग विवाद जब शिखर धवन की जानकारी में आया तो वे खुद को नहीं रोक पाए। शिखर डॉग लवर हैं और वह वे गॉड्स ओन कंट्री यानी केरल मे में हो रही घटनाओं की सीरीज पर ट्वीट करने से खुद को नहीं रोक पाए। अब देखना है कि शिखर की इस अपील का क्या असर पड़ता है। 

शिखर ने की हत्याओं की निंदा

भारतीय क्रिकेटर और सलामी बल्लेबाज शिखर धवन ने शुक्रवार को केरल में कुत्तों की सामूहिक हत्या की निंदा की है। राज्य में एक नए तरह का संघर्ष चल रहा है जहां इंसान केरल की गलियों में अपने बेस्ट फ्रेंड यानी कुत्तों से लड़ रहे हैं।

इसके पीछे की वजह यह है कि रोड पर स्ट्रीट डॉग्स के हमले की कई घटनाएं सामने आई हैं, जिसके बाद बदले में कुत्तों की हत्याएं की जाने लगी हैं। लेकिन जिस तरह से यह हो रहा है बहुत अमानवीय है क्योंकि केरल ने बड़े पैमाने पर कुत्तों की हत्याएं की जा रही हैं। 

कुत्ते का वीडियो हो रही वायरल

हाल ही में एक वीडियो वायरल हुआ जिसमें एक कुत्ते पर कई लोगों को काटने का आरोप लगा। तब उस कुत्ते को पीट-पीटकर मार डाला गया। केरल के दक्षिणी जिलों में लोग जानवरों और मनुष्यों के बीच की इस लड़ाई को समाप्त करने के लिए कुत्तों को जहर तक दे रहे हैं।

जब यह विवाद धवन के संज्ञान में आया तो वे इसके विरोध में उतरे। शिखर धवन खुद भी कुत्तों से बेहद प्यार करते हैं। यही कारण है कि इन घटनाओं से आहत होकर वे ट्वीट कर रहे हैं। 

मेयर ने क्या कहा

कोझीकोड की मेयर बीना फिलिप भी इन सामूहिक हत्याओं के खिलाफ हैं लेकिन अब वे कहती हैं कि अगर इंसानों पर हमला होता है तो उन्हें अपनी रक्षा करने का पूरा अधिकार है।

वे कहती हैं कि जब हमारे बच्चों पर कुत्तों द्वारा इस तरह से हमला किया जाता है तो लोग घबरा जाते हैं। इसलिए हत्याओं के लिए उन्हें दोष नहीं दिया जा सकता है।

कहा कि मैं कुत्तों को मारने के पक्ष में नहीं हूं और न ही इसे सही ठहराऊंगी लेकिन मौजूदा स्थिति में मैं लोगों को दोष भी नहीं दे सकती। कहा कि उम्मीद है कि आने वाले दिनों में अधिकारी स्थिति से निपटने का बेहतर तरीका खोज लेंगे क्योंकि कुत्तों को मारना हमलों को रोकने का सही तरीका नहीं है।
 

Share this story