अस्पताल ने बुलेटिन जारी किया, कहा- पंत पहले से बेहतर हैं , एक्सीडेंट से पंत की कलाई-घुटने में गंभीर चोटें

Cricketer Rishabh Pant
सड़क दुर्घटना में घायल 25 साल के क्रिकेटर ऋषभ पंत पहले से बेहतर हैं। मैक्स अस्पताल ने शुक्रवार शाम मेडिकल बुलेटिन जारी कर इसकी जानकारी दी। अस्पताल ने बताया- पंत की ब्रेन और स्पाइन MRI रिपोर्ट नॉर्मल आई है। शुक्रवार को उनके चेहरे की प्लास्टिक सर्जरी हुई है। दर्द-सूजन के कारण पंत के घुटने और टखने की MRI टाल दी गई है। ये दोनों जांच शनिवार को होंगी।

Newspoint24/newsdesk/एजेंसी इनपुट के साथ

रुड़की। सड़क दुर्घटना में घायल 25 साल के क्रिकेटर ऋषभ पंत पहले से बेहतर हैं। मैक्स अस्पताल ने शुक्रवार शाम मेडिकल बुलेटिन जारी कर इसकी जानकारी दी। अस्पताल ने बताया- पंत की ब्रेन और स्पाइन MRI रिपोर्ट नॉर्मल आई है। शुक्रवार को उनके चेहरे की प्लास्टिक सर्जरी हुई है। दर्द-सूजन के कारण पंत के घुटने और टखने की MRI टाल दी गई है। ये दोनों जांच शनिवार को होंगी।

बता दें कि पंत शुक्रवार को सुबह सड़क हादसे में बाल-बाल बच गए। पुलिस के मुताबिक, झपकी लगने से यह हादसा हुआ। उनकी मर्सिडीज अनियंत्रित होकर डिवाइडर से जा टकराई, जिसके बाद उसमें आग लग गई और पलट गई।

इधर, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पंत के एक्सीडेंट पर चिंता जताई।उन्होंने लिखा- क्रिकेटर ऋषभ पंत के हादसे में घायल होने से व्यथित हूं। मैं उनके अच्छे स्वास्थ्य के लिए प्रार्थना करता हूं। PM ने उनकी मां से फोन पर बातचीत की और उनका हालचाल भी लिया।

एक्सीडेंट के बाद पंत जलती हुई कार की खिड़की तोड़कर खुद ही बाहर निकले। लोग बचाने पहुंचे तो बोले- मैं ऋषभ पंत हूं। उन्हें सिर, पीठ और पैर में गंभीर चोटें आई हैं। डॉक्टरों के मुताबिक, उनकी हालत खतरे से बाहर है। उन्हें इलाज के लिए रुड़की से देहरादून ले जाया गया है। यहां के मैक्स हॉस्पिटल में उनका इलाज चल रहा है। डॉक्टर की एक टीम उनकी निगरानी कर रही है।

BCCI ने कहा- माथे पर दो चोटें आईं, घुटने का लिगामेंट टूटा
बोर्ड के सचिव जय शाह ने कहा, पंत के माथे पर दो चोटें आईं हैं। घुटने का लिगामेंट टूटा है। दाहिनी कलाई और एड़ी में भी चोट पहुंची हैं। एमआरआई के बाद उनकी चोट की गंभीरता का पता चल सकेगा। हम लगातार मेडिकल टीम और उनकी फैमिली के संपर्क में हैं। इस मुश्किल समय में हम पंत को हरसंभव मेडिकल ट्रीटमेंट और मदद देंगे।

देखिए....हादसा कितना भयानक था, कैसे हुआ

पहले कार 150 किमी/घंटे की रफ्तार से डिवाइडर से टकराई

ये CCTV सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है। इसमें स्पीड में आते हुए कार दिखाई दे रही है, जो रेलिंग में जाकर टकरा जाती है। यह गाड़ी ऋषभ पंत की बताई जा रही है।

ये CCTV सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है। इसमें स्पीड में आते हुए कार दिखाई दे रही है, जो रेलिंग में जाकर टकरा जाती है। यह गाड़ी ऋषभ पंत की बताई जा रही है।

फिर इसमें आग लग गई

हादसे के बाद कार में आग लग गई। इसका यह VIDEO सामने आया। यह सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

हादसे के बाद कार में आग लग गई। इसका यह VIDEO सामने आया। यह सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

गांव वालों ने रेस्क्यू किया, अस्पताल पहुंचाया

पंत कार से निकलने के बाद सड़क पर तड़पते देखे गए। गांववालों और राहगीरों ने उन्हें अस्पताल पहुंचाया। उनके चेहरे पर खून साफ देखा जा सकता है।

पंत कार से निकलने के बाद सड़क पर तड़पते देखे गए। गांववालों और राहगीरों ने उन्हें अस्पताल पहुंचाया। उनके चेहरे पर खून साफ देखा जा सकता है।

अब इस पूरे घटनाक्रम को सिलसिलेवार समझिए

हादसा कब और कहां हुआ
हादसा सुबह 5.30 बजे रुड़की के नारसन बॉर्डर पर हम्मदपुर झाल के मोड़ पर हुआ। वह अपनी कार नंबर DL 10 CN 1717 को खुद ही ड्राइव कर रहे थे। झपकी के बाद उनकी मर्सिडीज अनियंत्रित होकर डिवाइडर से जा टकराई। यह जगह उनके घर से 10 किलोमीटर दूर है। उस वक्त कार की रफ्तार 150 किमी/घंटे थी। कार 200 मीटर तक घिसटते चली गई।

अभी उनकी क्या स्थिति
हादसे के बाद पंत को एंबुलेंस से पहले इलाज के लिए रुड़की के सक्षम हॉस्पिटल ले जाया गया। अभी उनकी हालत स्थिर है। पंत को सिर, पीठ और पैर में चोटें आई हैं। सक्षम हॉस्पिटल के चेयरमैन और ऑर्थोपेडिक सर्जन डॉक्टर सुशील नागर ने दैनिक भास्कर को बताया कि MRI के बाद ही पता चलेगा कि उनके घुटने में कौन सी हड्‌डी टूटी है। पंत को ऑपरेशन की जरूरत भी पड़ सकती है। इसके बाद पता चलेगा कि वे कब तक खेल पाएंगे।

मां को सरप्राइज देने अकेले घर जा रहे थे
पंत अकेले घर जा रहे थे। उनका घर रुड़की रेलवे स्टेशन के पास है। डॉक्टर सुशील नागर ने दैनिक भास्कर को बताया कि वह अपनी मां को सरप्राइज देने के लिए जा रहे थे।

चश्मदीद ने बताया- पलटने के बाद आग लग गई
गांव वालों ने बताया कि उन्होंने तेज धमाका सुना। देखा कि एक कार डिवाइडर से टकराने के बाद कुछ फीट तक घसीटते चली गई। ऐसा लगा कि पलटी और उसमें आग लग गई। हमने उन्हें उठाया और अस्पताल पहुंचाया। उधर,उत्तराखंड DG अशोक कुमार के मुताबिक, एक्सीडेंट के बाद पंत जलती हुई कार की खिड़की तोड़कर बाहर निकले थे।

फोटो में देखा जा सकता है कि मर्सडीज बुरी तरह जल गई।

फोटो में देखा जा सकता है कि मर्सडीज बुरी तरह जल गई।

डॉक्टर बोले- सीट बेल्ट पहने होते तो कार में झुलस सकते थे
डॉक्टर सुशील नागर ने दैनिक भास्कर को बताया कि पंत सीट बेल्ट नहीं पहने थे। इसलिए वे सुरक्षित बाहर आ गए। अगर वे सीट बेल्ट पहने होते तो कार में आग लगने के बाद वह झुलस सकते थे।

कार में लाखों रुपए थे, मदद की बजाय लोग जेबों में रख रहे थे
ऐसा बताया जा रहा है कि ऋषभ की गाड़ी में करीब तीन से चार लाख रुपए थे। घटना के बाद सारे रुपए सड़क पर बिखरे पड़े थे। वे वहां तड़पते रहे लेकिन इस दौरान कुछ लोग ऋषभ की मदद करने के बजाय नोट अपनी जेबों में भरने और वीडियो बनाने में मशगूल हो गए।

अब हादसे के बाकी फोटो देखिए...

फोटो में देखा जा सकता है कि कार बुरी तरह जल गई। पंत खिड़की तोड़कर बाहर निकले।

फोटो में देखा जा सकता है कि कार बुरी तरह जल गई। पंत खिड़की तोड़कर बाहर निकले।

पंत की कार इस डिवाडर से टकराई और कई फीट तक घिसटते चली गई।

पंत की कार इस डिवाडर से टकराई और कई फीट तक घिसटते चली गई।

पंत को आंख के पास भी चोटें आई हैं।

पंत को आंख के पास भी चोटें आई हैं।

उनकी पीठ पर भी गहरी चोटें आई हैं।

उनकी पीठ पर भी गहरी चोटें आई हैं।

डॉक्टरों के मुताबिक, ऋषभ की हालत स्थिर है।

डॉक्टरों के मुताबिक, ऋषभ की हालत स्थिर है।

हादसे के बाद पंत को एंबुलेंस से पहले इलाज के लिए रुड़की के सक्षम हॉस्पिटल ले जाया गया।

हादसे के बाद पंत को एंबुलेंस से पहले इलाज के लिए रुड़की के सक्षम हॉस्पिटल ले जाया गया।

Share this story