एअर इंडिया इंटरनेशनल फ्लाइट में खाने में ब्लेड मिली:पैसेंजर बोला- खाना चबाने के बाद पता चला

एअर इंडिया इंटरनेशनल फ्लाइट में खाने में ब्लेड मिली:पैसेंजर बोला- खाना चबाने के बाद पता चला

Newspoint24/newsdesk/एजेंसी इनपुट के साथ

 

नई दिल्ली। एअर इंडिया की इंटरनेशनल फ्लाइट में एक पैसेंजर के खाने में ब्लेड मिली। पैसेंजर ने खुद सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म X पर पोस्ट शेयर कर इस बात की जानकारी दी।

इस पोस्ट के बाद रविवार 16 जून को एअर इंडिया ने बयान जारी कर पैसेंजर के खाने में ब्लेड मिलने की बात को स्वीकार किया और माफी मांगी।

 

शकरकंद और अंजीर चाट में मेटल का टुकड़ा मिला
दरअसल, मैथुरेस पॉल नाम का पैसेंजर एअर इंडिया की फ्लाइट से बेंगलुरु से सैन फ्रांसिस्को जा रहा था। पॉल ने 10 जून को X पर एअर इंडिया की फ्लाइट में खाने में मिली ब्लेड की दो फोटो शेयर कीं।

पॉल ने फोटोज शेयर कर पोस्ट में लिखा, 'एअर इंडिया का खाना चाकू की तरह काट सकता है। भुने हुए शकरकंद और अंजीर चाट में एक मेटल का टुकड़ा मिला, जो ब्लेड जैसा दिख रहा था। मुझे इसका एहसास कुछ सेकेंड तक खाना चबाने के बाद ही हुआ। शुक्र है, मुझे कोई नुकसान नहीं हुआ।

बेशक, इसका दोष पूरी तरह से एअर इंडिया की कैटरिंग सर्विस पर है। क्या होता अगर मेटल का टुकड़ा किसी बच्चे को परोसे गए खाने में होता? पहली फोटो में वह मेटल का टुकड़ा दिखाया गया है, जिसे मैंने थूक दिया और दूसरी तस्वीर में वह खाना दिखाया गया है, जो मुझे सर्व किया गया था।'

एअर इंडिया के चीफ कस्टमर एक्सपीरियंस ऑफिसर ने माफी मांगी
पैसेंजर की इस पोस्ट के बाद 16 जून को एअर इंडिया के चीफ कस्टमर एक्सपीरियंस ऑफिसर राजेश डोगरा ने कहा, 'डियर मिस्टर पॉल, हमें इस बारे में जानकर बेहद खेद है। यह उस सर्विस के लेवल को नहीं दर्शाता है, जिसे हम अपने पैसेंजर्स को देना चाहते हैं।

कृपया हमें अपनी सीट नंबर के साथ अपनी बुकिंग डीटेल्स मैसेज करें। हम सुनिश्चित करेंगे कि इस मामले की तुरंत समीक्षा और समाधान किया जाए।

'ऐसी घटनाओं को रोकने के उपायों को मजबूत करने पर काम किया'
एअर इंडिया ने पुष्टि की है कि हमारी एक फ्लाइट में सवार पैसेंजर के खाने में कोई फॉरेन ऑब्जेक्ट पाया गया था। जांच के बाद यह पाया गया कि यह हमारे केटरिंग पार्टनर के यहां इस्तेमाल की जाने वाली वेजिटेबल प्रोसेसिंग मशीन से आया था।

हमने अपने कैटरिंग पार्टनर के साथ मिलकर ऐसी किसी भी घटना को रोकने के लिए उपायों को मजबूत करने पर काम किया है। इसमें प्रोसेसर की कई बार जांच करना शामिल है, खासकर किसी हार्ड वेजिटेबल को काटने के बाद।'

यूजर्स ने अपने-अपने एक्सपीरियंस भी बताए, एक ने कहा- ये हॉरर स्टोरी
इस मामले को लेकर सोशल मीडिया पर एक यूजर ने कहा, 'यह एक कटिंग एज डायनिंग एक्सपीरियंस है।' एक दूसरे यूजर ने कहा, 'हॉरर स्टोरी। अगर आप इतना सावधान नहीं होते तो यह मेडिकल इमरजेंसी हो सकती थी, भगवान का शुक्र है कि आप ठीक हैं।'

एक अन्य यूजर ने लिखा, 'यह एक बहुत ही गंभीर सुरक्षा खतरा भी है। ब्लेड पैसेंजर के खाने तक कैसे चली गई और केटरिंग सप्लाई के जरिए कैसे अंदर आ गई? यह एंटी-सैबोटेज चेक्स को कैसे पास कर गया, जो एयरक्राफ्ट ऑपरेटर की प्राइमरी रिस्पॉन्सिबिलिटी है?

एक अन्य यूजर ने हाल ही में एअर इंडिया की एक फ्लाइट में अपने अनुभव को शेयर किया। यूजर ने लिखा, 'एक इंटरनेशनल फ्लाइट में मेरे बच्चे के खाने में सलाद था, जिसमें फंगस उग आया था। इससे पता चलता है कि फूड स्टोरेज में कोई समस्या है।'

Share this story