डायरेक्टर की डिमांड नहीं की पूरी तो काट दिया रोल, भोजपुरी एक्ट्रेस ने कास्टिंग काउच पर किया बड़ा खुलासा

सना खान को हर रात दिखती थी जलती हुई कब्र, इस वजह से ले लिया था ताउम्र हिज़ाब पहनने का फैसला

Newspoint24/newsdesk/एजेंसी इनपुट के साथ

भोपाल।भोजपुरी फिल्म इंडस्ट्री की नामचीन एक्ट्रेस पाखी हेगड़े ने  खुद के साथ हुए पक्षपात को लेकर बड़ा खुलासा किया है। पाखी हेगड़े ने कई भोजपुरी फिल्मों में मुख्य किरदार निभाया है।

पाखी को निरहुआ रिक्शावाला में कास्ट किया था, ये फिल्म बॉक्स ऑफिस पर सुपर डुपर हिट हुई थी। वहीं उन्हें इसका वो फायदा नहीं मिला जो दिनेश लाल यादव उर्फ निरहुआ को मिला था। 

 कास्टिंग काउच पर रखी राय

फिल्म इंडस्ट्री में कास्टिंग काउच पर  बेबाक राय रखी हैं, उन्होंने इंटरव्यु में बताया कि जब वो इस इंडस्ट्री में आई थी, तो हिंदी फिल्मों  के लिए स्ट्रगल कर रहीं थी, इस दौरान उनका अनुभव अच्छा नहीं रहा, कई लोगों ने उनसे  कहा है आपके लिए ये लाइन ठीक नहीं' है।

वहीं जब उन्हें फिल्में मिलना शुरू हो गई थी तो एक डायरेक्टर का फेवर नहीं करने पर उनका रोल कट कर दिया था। 

एक्ट्रेसेस को लेकर अच्छी राय नहीं

पाखी हेगड़े ने एक इंटरव्यु में बताया कि जब उन्होंने भोजपुरी इंडस्ट्री में एंट्री की थी तो ज्यादातर लोगों ने उनसे यही सवाल किय था कि इस इंडस्ट्री में वो क्यों आई है, दरअसल इसे हमेशा से कमतर आंका गया है।

भोजपुरी फिल्मों को लेकर लोगों की राय में कई मतभेद हैं, ज्यादातर लोग इसे वल्गर मानते हैं। 

एक्टिंग और बेहतर स्क्रिप्ट की होती है तलाश

पाखी ने बताया कि भोजपुरी की अभिनेत्रियों को लोग अच्छी नज़रों से नहीं देखते हैं। हालांकि उन्होंने कहा कि वल्गैरिटी के अपोजिट उन्होंने बेहतर एक्टिंग के जरिए अपनी पहचान बनाने की कोशिश की है।

पाखी ने कहा कि उनकी कई फिल्में महिला प्रधान रही हैं, वे हमेशा  से  बेहतर काम करने के लिए इंस्पायर होती रहती हैं। वे हमेशा  एक्टिंग और बेहतर स्क्रिप्ट पर ही करती हैं। बेवजह के अश्लील सीन से उन्हें परहेज़ है।

यह भी पढ़ें : सना खान को हर रात दिखती थी जलती हुई कब्र, इस वजह से ले लिया था ताउम्र हिज़ाब पहनने का फैसला

Share this story