SBI के यूजर अब मैसेज भेजकर कर सकते हैं फास्टटैग बैलेंस चेक, जानें क्या है प्रोसेस

SBI के यूजर अब मैसेज भेजकर कर सकते हैं फास्टटैग बैलेंस चेक, जानें क्या है प्रोसेस

Newspoint24/newsdesk/एजेंसी इनपुट के साथ

नई दिल्ली। टोल नाके पर टोल देने के लिए केंद्र सरकार की ओर से लाए गए फास्टटैग सिस्टम से लोगों को काफी सहूलियत हुई है। अब आसानी से टोल पे हो जाता है और समय भी कम लगता, लेकिन कई लोग इस बात को लेकर चिंतित रहते हैं कि उनका फास्टटैग बैलेंस कहीं कम तो नहीं हो गया है। 

अगर आप स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) के ग्राहक हैं तो मैसेज भेजकर आसानी ने अपना फास्टटैग बैलेंस पता कर सकते हैं। एसबीआई ने फास्टटैग बैलेंस चेक करने के लिए नया एसएमएस सर्विस शुरू किया है। इस सेवा का लाभ उठाने के लिए आपको यह प्रोसेस अपनाना होगा। 

एसएमएस से कैसे करें फास्टटैग बैलेंस चेक

  • स्पेट 1: मैसेज बॉक्स में जाकर FTBAL टाइप करें। 
  • स्पेट 2: ऊपर लिखे गए मैसेज को अपने रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर से 7208820019 पर भेज दें। 
  • स्पेट 3: बैंक तुरंत आपको बचा हुआ एसबीआई फास्टटैग बैलेंस बता देगा।

इलेक्ट्रॉनिक टोल कलेक्शन सिस्टम है फास्टटैग

दरअसल, FASTag भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (NHAI) का इलेक्ट्रॉनिक टोल कलेक्शन सिस्टम है। इसमें रेडियो फ्रीक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल कर यात्री के FASTag अकाउंट से टोल टैक्स ले लिया जाता है।

इससे गाड़ी चलाते समय या यात्रा पर जाते समय नकदी ले जाने की जरूरत नहीं होती। आपको बस अपना FASTag रिचार्ज करना है और टोल आपके वाहन की विंडस्क्रीन पर लगे FASTag (RFID टैग) से ले लिया जाएगा। 

सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने केंद्रीय मोटर वाहन नियम (CMVR) 1989 के तहत 1 जनवरी, 2021 से FASTag को अनिवार्य कर दिया है। FASTag रिचार्ज किसी भी बैंक के माध्यम से किया जा सकता है।

एसबीआई अकाउंट रखने वाले व्यक्ति को अगर फास्टटैग की जरूरत हो तो उसे बैंक के प्वाइंट ऑफ सेल टर्मिनल (PoS) पर जाकर आवेदन देना होगा। एसबीआई के फास्टटैग अकाउंट की वैलिडिटी 5 साल है।

Share this story