Tata की हो सकती है Bisleri, 59 साल पुरानी कंपनी बेचने के पीछे है यह बड़ी वजह

Tata की हो सकती है Bisleri, 59 साल पुरानी कंपनी बेचने के पीछे है यह बड़ी वजह

Newspoint24/newsdesk/एजेंसी इनपुट के साथ

मुंबई। एक और जहां Tata समूह अपने कारोबार का विस्तार करने में जुटा हुआ है वहीं दूसरी तरफ सुनने में आ रहा है कि Bisleri इंटरनेशनल के मालिक रमेश चौहान अपनी कंपनी को बेचने जा रहे हैं।

इकोनॉमिक टाइम्स में छपी एक रिपोर्ट की मानें तो टाटा कंज्यूमर प्रोडक्ट्स लिमिटेड (TCPL) बिसलेरी को 6 हजार से 7 हजार करोड़ में खरीदने का मन बना रहा है। कंपनी की तरफ से इस बड़ी डील की तैयारी लगभग पूरी हो चुकी है।

हालांकि, यह डील अभी फाइनल नहीं हुई है। इस बारे में जब PTI ने चौहान से बता की तो उन्होंने कहा कि कहा कि वह अपने Packaged water बिजनेस के लिए एक खरीदार की तलाश कर रहे हैं और टाटा कंज्यूमर के अलावा भी कई और खरीदारों से बात कर रहे हैं।

बता दें कि तीन दशक पहले चौहान ने सॉफ्ट ड्रिंक ब्रांड थम्स अप, गोल्ड स्पॉट और लिम्का भी कोका-कोला को बेच दी थी।

इस वजह से खरीदार तलाश रहे हैं चौहान

एक अन्य रिपोर्ट में इस बड़ी डील को करने का एक बड़ा कारण भी सामने आया है। इस रिपोर्ट के मुताबिक 82 वर्षीय चौहान का कहना है कि बिसलेरी को अगले लेवल पर ले जाने के लिए उनके पास कोई उत्तराधिकारी नहीं है।

उनकी बेटी जयंती कारोबार में ज्यादा दिलचस्पी नहीं रखतीं। इसके अलावा हाल के दिनों में खुद चौहान का स्वास्थ्य भी ठीक नहीं रहा है। इस कारोबार से बाहर निकलने के बाद चौहान का प्लान वाटर हार्वेस्टिंग और प्लास्टिक रीसाइक्लिंग जैसे पर्यावरण और चैरिटी से जुड़े कामों पर फोकस करना है।

Tata Consumer to acquire Raamesh Chauhan's packaged water giant Bisleri for about 7,000 crore rupees AKA

चौहान को है टाटा पर पूरा भरोसा

वहीं इससे पहले अपनी कंपनी को टाटा ग्रुप को बेचने को लेकर चौहान ने कहा कि, 'मुझे यकीन है कि टाटा ग्रुप मेरे बिजनेस को और भी बेहतर तरीके से आगे बढ़ाएगा। मुझे उनका कल्चर पसंद है, इसलिए अन्य खरीदारों के बावजूद मैंने टाटा को चुना।

 माना जा रहा है कि इस डील में बिसलेरी को खरीदने के लिए रिलायंस रिटेल, नेस्ले और डेनोन जैसी कई कंपनियां रेस में शामिल थीं। डील के हिस्से के रूप में बिसलेरी का मौजूदा मैनेजमेंट दो साल तक जारी रहेगा। बता दें कि बिसलेरी भारत की सबसे बड़ी पैकेज्ड वाटर कंपनी है।

27 साल की उम्र में मिनरल वाटर बेचना शुरू किया

बता दें कि मिनरल वाटर ब्रांड 'बिसलेरी' को भारत में पॉपुलर बनाने वाले रमेश चौहान ने महज 27 साल की उम्र में भारतीय बाजार में पैकेज्ड मिनरल वॉटर पेश किया था।

50 साल से ज्यादा के करियर में चौहान ने बिसलेरी को मिनरल वॉटर का भारतीय टॉप ब्रांड बना दिया। इसके अलावा देश में थम्सअप, गोल्ड स्पॉट, सिट्रा, माजा और लिम्का जैसे कई ब्रांड को बनाने वाले भी चौहान ही हैं।

Share this story